डाॅ. केशव पांडे की अगुआई में…

वर्किंग जर्नलिस्ट ऐशोसियेशन ने सेवा अभियान का किया आगाज

 

ग्वालियर। कोरोना महामारी के समय जब समस्त विश्व अलग अलग चुनौतियों का सामना कर रहा है। भारत में भी कोरोना के कारण लाॅकडाउन है और उसके कारण विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले लोग कई तरह के संकटों का सामना कर रहे हैं। निजी क्षेत्र के सामने आमदनी को बनाए रखने की चुनौती है। प्रेस और मीडिया जगत भी कोरोना की मंदी देख रहा है। ऐसे में इन कोरोना योद्धाओं के साथ खड़े होने का वक्त है। वे सूचनाओं के जरिए हमारी सेवा कर रहे हैं हमें भी उनकी हर परेशानी और समस्या में उनके साथ खड़े होना होगा।

वर्किंग जर्नलिस्ट ऐशोसियेशन मप्र ने इसी भावना के साथ मध्यप्रदेश में एक स्वैच्छिक सेवा अभियान का आगाज किया है। ऐशोसियेशन के संरक्षक वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी डाॅ. केशव पांडे पत्रकारिता को कई दशक समर्पित कर चुके हैं। लोकहितकारी ट्रस्ट, उद्भव सांस्कृतिक एवं क्रीड़ा संस्थान आदि विभिन्न सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्थाओं के जरिए वे केवल समाजसेवा में अग्रणी रहते हैं बल्कि समाज की उज्जवल प्रतिभाओं को को भी भारत और विदेशों में भी मंच देते हैं। 

डाॅ. पाण्डे के दिखाए सेवा के मार्ग पर चलते हुए वर्किंग जर्नलिस्ट ऐशोसिऐशन  लाॅकडाउन के समय अपने साथियों के साथ खड़ी है। ऐशोसिऐशन प्रदेशाध्यक्ष जितेन्द्र सिंह जादौन और पूरी कार्यकारिणी के साथ अपने बस तक अपने साथियों की चिंता कर रही है। इस बारे में श्री जादौन कहते हैं कि व्यक्ति कुछ नहीं करता है, कार्य अच्छे विचार से होता है। हमारे संरक्षक एवं वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी डाॅ. केशव पांडे जी ने हमें कोरोनाकाल में सेवा का ऐसा ही विचार देकर नेक राह दिखाई है। हम इस महामारी के दौरान उनके मार्गदर्शन में अपने मीडिया साथियों के साथ खड़े होने के लिए निकले हैं। सेवा का लक्ष्य है। 

जहां जैसी हमारी जरुरत है खुद आगे बढ़कर सहयोग के लिए पहुंच रहे हैं। हमारा मीडिया परिवार स्वाभिमानी है। वह हमेशा समाज की चिंता करता है ऐसे में जरुरत है कि कहीं कहीं उसकी परेशानियों को खुद समझकर उन तक पहुंचकर हल किया जाए। वर्किंग जर्नलिस्ट ऐशोसिऐशन ने खुद आगे बढ़कर सहयोग पहुंचाना तय किया है और खुशी की बात है कि हम अपने 600 साथियों के सहयोगी बनने में सफल हुए है। 

इस अभियान के प्रणेता डाॅ. केशव पांडे कहते हैं कि यह स्वप्रेरित कार्य है। जो जहां जिस तरह से एक दूसरे के काम सके उसे सहयोग करना चाहिए। हमें ईश्वर ने यह मार्ग दिखाया तो हमारे साथ लोग जुड़ते गए और कारवां बनता चला गया। राजा बाक्षर महाराज  भक्त मंडल के महंत संजय इतापे से लेकर नगर के कई समाजसेवी एवं मित्रगण इस सेवा कार्य से आगे बढ़कर जुड़े हैं। स्वयंसेवकों का यह दल अब गांवों एवं पिछड़ी बस्तियों में जाकर खाद्यान्न वितरण का काम कर रहा है। सूखा राशन आदि जरुरतमंदो तक पहुंचाया जा रहा है। यह नेक नीयत से किया जा रहा सेवा कार्य है जिसमें ईश्वर कृपा से हमें निरंतर सफलता मिल रही है। 

हमारा मानना है कि समाज में हम सबको एक दूसरे के सहयोग की जरुरत होती है आखिर हम एक दूसरे के सहयोग से ही जीवन संचालित कर पाते हैं। आज आपदा है तो ऐसे में सहकार और सहयोग की इस भावना से एक दूसरे की मदद करना बहुत ज्यादा जरुरी है। वर्किंग जनर्लिस्ट ऐसोसिऐशन, राजा बाक्षर भक्त मंडल आदि संस्थाओं एवं हमारे सहयोगी मित्रों का यह अभियान इसी भावना को समर्पित है।