लॉकडाउन व डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए...

ब्राह्मण समाज ने किया भगवान परशुराम जी का पूजन 



ग्वालियर 26 अप्रेल आज अक्षय तृतीया पर भगवान विष्णु के छठवें अवतार भगवान परशुराम जी का लोक डाउन व डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए,पूर्व वर्षो के अनुसार इस वर्ष भी पूजा- अर्चना की गई। आचार्य वैभव विदुआ द्वारा बिधि-बिधान से समाज के अध्यक्ष राम नारायण मिश्रा ने अभिषेक, पूजन किया श्रीरामजानकी राज्यमन्दिर सेवानगर पर किया, इस अवसर पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष रश्मि पुरोहित  महामंत्री राजीव पस्तोर, कोषाध्यक्ष राम कुमार पुरोहित, संयुक्त सचिव हेमंत विदुआ ने इष्टदेव परशुराम जी का पूजन व अभिषेक में भाग लिया व सभी ने आरती  की।

इस अवसर पर सभी ने इस भगवान परशुराम जी से प्रार्थना करते हुए की जिस प्रकार अत्याचारियों से पृथ्बी मुक्त कर भक्तो की जान बचाई थी उसी प्रकार इस विश्वव्यपात कोरोना महामारी से देश व  समाज को इससे मुक्ति प्रदान करने की प्रभु कृपा करें। पूजा अर्चना के पश्चात फल प्रसादी का वितरण किया।

श्री परशुरामेश्वर मंदिर रामकुई पर हुआ भगवान का अभिषेक


ब्राह्मण समाजजनों द्वारा अपने-अपने घरों में रहकर भगवान परशुराम जी के चित्र व प्रतिमा के समक्ष पूजन-अर्चन किया गया। समाज के बंधुओं ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सुबह विशेष हवन और पूजन कर परशुराम जयंती मनाई। सनाढ्य हॉस्टल रामकुई,गैंडेवाली सड़क पर स्थापित श्री परशुरामेश्वर मंदिर में भगवानश्री की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए विधि विधान से पूजन किया। आचार्यों ने सामाजिक दूरी का पालन करते हुए परशुरामजी का अभिषेक किया और पूजन अर्चन किया।

मंदिर में पूर्व से ही आने के लिए समाज के बंधुओं को मना किया गया था। इस दौरान मप्र सनाढ्य सभा के अध्यक्ष श्री किशन मुदगल ने  बताया कि परशुराम जयंती के अवसर पर भगवान परशुराम जी का पूजन कर उनसे प्राथना की गई कि वे भारत ही नही अपितु पूरे विश्व से कोरोना महामारी जैसी संक्रामक बीमारी का समूल नाश करे। वहीं कोरोना महामारी के कारण आज सभी ब्राह्मण परिवारों में भगवान परशुराम जी का पूजन सार्वजनिक रूप से नही करते हुए घरो में ही किया गया।