धर्मांतरण को लेकर MP में सियासत गर्म…

धर्म परिवर्तन करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी : VD शर्मा

भोपाल  l मध्य प्रदेश में एक बार फिर धर्मांतरण को लेकर सियासत गरमा गई है. मामले को लेकर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद वीडी शर्मा ने कहा कि जांच ही नहीं, धर्मांतरण पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. हमारी सरकार इन मामलों पर सख्त है और सरकार सभी मामलों पर त्वरित कार्रवाई कर रही है. उन्होंने कहा कि चाहे दमोह हो या रायसेन मध्य प्रदेश के अंदर ऐसी चीजें नहीं चलेगी. इन सभी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

धर्मांतरण को लेकर नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह के बयान पर वीडी शर्मा ने कहा कि आपके सर्टिफिकेट की भाजपा को जरूरत नहीं है. जनता लगातार भाजपा को सर्टिफिकेट दे रही है. अपने ही सरकार में मंत्री रहते हुए सबसे भ्रष्ट सरकार बता रहे थे, कहते थे कि पैसा ऊपर तक जाता है. वहीं कमलछाप नेताओं वाले बयान पर उन्होंने कहा कि वे अपने अंदर समीक्षा करें कि कितने लोग बचे हैं. परिवारवाद और कुछ लोगों तक ही पार्टी सिमट कर रह गई है. अगर उसकी खिलाफत करने वाले लोग कमल छाप हैं तो कांग्रेस में वैसे भी कुछ नहीं बचने वाला वह खुद चिंता करें.

वहीं इस मामले में राज्यसभा सांसद सुमित्रा वाल्मीकि ने कहा कि धर्मातंरण के कुचक्र के पीछे कांग्रेस और उसका राजनैतिक मकसद है और गुमराह करने वाले बख्से नहीं जाएंगे. राज्यसभा सांसद सुमित्रा वाल्मीकि ने कहा कि सत्ता के लिए झटपटा रहे लोग,इस कुचक्र के पीछे हैं. धर्मांतरण से सबसे ज्यादा फायदा कांग्रेस को है और इसलिए कांग्रेस धर्मांतरण को बढ़ावा दे रही है. धर्म के आधार पर लोगों को गुमराह कर धर्मांतरण का खेल खेलने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. जनता कांग्रेस को जान चुकी है.

बता दें कि मध्य प्रदेश के दमोह में रविवार रात को ईसाई मिशनरियों द्वारा बच्चों का धर्मांतरण का मुद्दा गरमा गया. जिले के दौरे पर पहुंचे बाल संरक्षण आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो हॉस्टल औचक निरीक्षण के लिए पहुंचे, जहां उन्हें लंबा इंतजार करना पड़ा. इसके बाद उन्होंने थाने में इस मामले को लेकर थाने में शिकायत की है, जिसके बाद पुलिस ने कई धाराओं में 10 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की है.