हिमाचल में मतदान खत्म...

शाम पांच बजे तक 65.95 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का किया प्रयोग 

 नई दिल्ली l हिमाचल प्रदेश की सभी 68 विधानसभा सीटों पर मतदान की प्रक्रिया आज समाप्त हो गई। चुनाव आयोग के मुताबिक शाम पांच बजे तक 65.95 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। अभी अंतिम आंकड़े आने बाकी हैं। सुबह आठ बजे से मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई थी। इसके लिए प्रदेश भर में 7,881 मतदान केंद्र बनाए गए थे।   चुनाव आयोग के अनुसार, शाम पांच बजे तक सिरमौर में सबसे ज्यादा वोटिंग हुई। यहां 72.35 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया है। इसके बाद सोलन में 68.48% बिलासपुर में 65.72%, चम्बा में 63.09%, हमीरपुर में 64.74%, कांगड़ा में 63.95%, किन्नौर में 62.00% कुल्लू में 64.59%, लाहौल स्पीती में 67.50%, मंडी में 66.75%, शिमला में 65.66%, सोलन में 68.48% और उना जिले में 67.67% लोगों ने वोट डाला। 

2017 में बिलासपुर में 76.54%, चम्बा में 74.10%, हमीरपुर में 70.64%, कांगड़ा में 72.97%, किन्नौर में 75.51%, कुल्लू में 78.88%, लाहौल स्पीती में 73.17%, मंडी में 76.35%, शिमला में 73.43%, सिरमौर में 81.51%, सोलन में 78.10%, ऊना में 76.82% लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था। पिछले विधानसभा चुनाव यानी 2017 में सबसे ज्यादा मतदान सोलन जिले की दून विधानसभा सीट पर 89.3% पर वोटिंग हुई थी। इसके अलावा सबसे कम मतदान शिमला विधानसभा सीट पर हुआ था। यहां केवल 64.3% लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था। 

 हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर मंडी जिले की सिराज सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। यहां शाम पांच बजे तक 74 फीसदी लोगों ने वोट डाला। जिले की मंडी सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री सुखराम के बेटे अनिल शर्मा भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। यहां अब तक 72.90 फीसदी वोटिंग हुई। वहीं, शिमला ग्रामीण से कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह चुनाव लड़ रहे हैं। यहां शाम पांच बजे तक 66.35 फीसदी लोगों ने वोट डाला। वहीं, मुख्यमंत्री पद की रेस में शामिल कांग्रेस नेता मुकेश अग्निहोत्री हरोली से चुनाव लड़ रहे हैं। यहां पांच बजे तक 69.90 प्रतिशत लोगों ने वोट डाला। इसके अलावा सुखविंदर सिंह हमीरपुर जिले की नादौन सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी हैं। यहां 65.55 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

2017 विधानसभा चुनाव के आंकड़ों पर नजर डालें तो हिमाचल प्रदेश में कुल 74.2% तक लोगों ने वोट डाला था। इसके पहले 2007 में 71.6% और 2012 में 72.7% प्रतिशत वोटिंग हुई थी।