बारिश-बर्फबारी के लिए भी अलर्ट जारी...

जोशीमठ में अगले 24 घंटे में हिमस्खलन का खतरा !

उत्तराखंड l उत्तराखंड में कैप आधारित इंटीग्रेटेड अलर्ट सिस्टम से मिली जानकारी के अनुसार के जोशीमठ जिले के अंतर्गत 3,000 मीटर ऊंचाई वाले क्षेत्रों में अगले 24 घंटे में हिमस्खलन की संभावना जताई गई है l अपर जिलाधिकारी डॉ. अभिषेक त्रिपाठी  ने सभी एसडीएम को ऐसे क्षेत्रों में आवगमन प्रतिबंधित करने के लिए निर्देश दिया है l गौरतलब है कि इससे पहले उत्तरकाशी में 29 पर्वतारोही चढ़ाई के बाद लौटते समय चार अक्टूबर को 17 हजार फुट की ऊंचाई पर द्रौपदी का डांडा,चोटी पर हिमस्खलन की चपेट में आ गए थे l  इनमें से 27 पर्वतारोहियों के शव बरामद हो चुके हैं l 

दूसरी तरफ बुधवार को अगर उत्तराखंड के मौसम की बात करें तो बारिश की संभावना बनी हुई है l  मौसम केंद्र देहरादून के अनुसार उत्तराखंड के जिलों के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं l  वहीं राज्य के उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर और पिथौरागढ़ जिलों के 3,500 मीटर या उससे अधिक ऊंचाई वालों कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बर्फबारी होने की संभावना है l 

इसके अलावा प्रदेश के पर्वतीय जिलों में कहीं-कहीं गरज के साथ आकाशीय बिजली चमकने, ओलावृष्टि और तीव्र बौछार पड़ने की संभावना है l इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है l मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार को भी मौसम इसी तरह का बना रहेगा l हालांकि, अभी उसके लिए कोई अलर्ट जारी नहीं हुआ है l  मौसम विभाग का कहना है कि राज्य मे कहीं-कहीं बिजली गिरने से जान-माल की हानि हो सकती है l  इसके अलावा संवेदनशील इलाकों में कहीं-कहीं हल्का भूस्खलन और चट्टान गिरने की आशंका है l मौसम विभाग की तरफ से लोगों को सलाह दी गई है कि गर्जन के दौरान बिजली का संचालन करने वाली सभी वस्तुओं से दूर रहे. वहीं गर्जन के दौरान जानवरों को बाहर न बांधे. दूसरी तरफ छोटी नदी-नालों के पास रहने वाले लोगों और बस्तियों को सुरक्षित स्थानों पर रहने की सलाह दी गई है l