नगर निगम परिषद के विशेष सम्मेलन में लिए गए अनेक निर्णय...

12 वार्ड समितियों का सर्वसम्मति से हुआ गठन


ग्वालियर l  दिनांक 05 सितम्बर l नगर निगम परिषद के विशेष सम्मेलन में आज सोमवार को म.प्र नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 48 (क) के तहत सर्वसम्मति से नगर निगम के भौगोलिक क्षेत्र को दृष्टिगत रखते हुए निगम विधान के अनुसार (जनगणना 2011 की जनसंख्या अनुसार) सभापति मनोज तोमर की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। सम्मेलन में निर्धारित एजेंडा वार्ड समितियों के गठन पर चर्चा करते हुए सभी पार्षदगणों की सहमति से 12 वार्ड समितियों का गठन किया गया। 

वार्ड समित क्रमांक 1 में 1,4,5,63 एवं 64, वार्ड समिति क्रमांक 2 में 3,6,7,8,9,10, वार्ड समिति क्रमांक 3 में 11,12,13,14,15,16, वार्ड समिति क्रमांक 4 में 17,31,32,33,34,35, वार्ड समिति क्रमांक 5 में 18,19,20,21,62, वार्ड समिति क्रमांक 6 में 24,29,30,60,61, वार्ड समिति क्रमांक 7 में 38,49,51,52,65, वार्ड समिति क्रमांक 8 में 2,36,37,39,40,41, वार्ड समिति क्रमांक 9 में 42,43,44,47,48,50, वार्ड समिति क्रमांक 10 में 46,53,54,55,56, वार्ड समिति क्रमांक 11 में 45,57,58,59,66, वार्ड समिति क्रमांक 12 में 22,23,25,26,27,28, को शामिल कर कुल 12 वार्ड समितियेां का गठन किया गया। 

 गुणवत्ता के साथ तेजी से करें एलईडी स्ट्रीट लाइटों का संधारण: महापौर डाॅ सिकरवार

शहर में एलईडी स्ट्रीट लाइट की समस्या को लेकर आज सोमवार को निगम मुख्यालय में महापौर डाॅ शोभा सतीश सिकरवार की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में सभापति मनोज तोमर, नगर निगम आयुक्त किशोर कन्याल एलईडी लगाने वाली ऐजेन्सी के स्टेटहैड वेदप्रकाश , बजाज कंपनी के प्रतिनिणि एवं डेसबोर्ड संचालित करने वाली ऐजेन्सी के प्रतिनिधि, निगम अधिकारी व ईईएसएल, निगम, स्मार्ट सिटी के अधिकारी उपस्थित रहे। 

बैठक में महापौर डाॅ सिकरवार द्वारा शहर में लगातार आ रही एलईडी लाइट की समस्या को लेकर संबंधित कंपनी को दीपावली से पहले शहर में लगी सभी एलईडी लाइट को गुणवत्ता के साथ सुधारने के निर्देश दिए। वहीं सभापति श्री तोमर ने लाइट की गुणवत्ता को लेकर संबंधित कंपनी को उसमें सुधार लाने के लिए कहा गया।

निगमायुक्त किशोर कन्याल द्वारा शहर में एलईडी लाइट को लेकर डेश बोर्ड पर लाइव रिपोर्ट सुधारने सहित सीसीएमएस, एलईडी लाइट की क्वालिटी सहित पोल नंबरिंग इत्यादि के कार्य को तेज गति से गुणवत्ता के साथ सुधारने के निर्देश दिए गए। ईईएसएल के अधिकारियों को निगम व स्मार्ट सिटी के साथ शहर में दौरा कर एलईडी के सर्वे करने के निर्देश दिए गए। वही 2 दिन बाद दोबारा से समीक्षा के लिए भी निर्देश दिए गए। इसके साथ ही स्टॉक में 10 हजार लाइट रखने के लिए भी संबंधित कंपनी को निर्देश दिए गए। संबंधित कंपनी को अगले 10 दिन में तेज गति से कार्य करने के निर्देश दिए। कंपनी ने इस माह में पूरे शहर की लाइट को ठीक करने का आस्वासन भी दिया।