हरीश वार्ता समाचार पत्र के विमोचन कार्यक्रम में ...

लोकतंत्र के लिये चौथे स्तम्भ की मजबूती आवश्यकः ऊर्जा मंत्री 


ग्वालियर ।
लोकतंत्र की मजबूती के लिये चौथे स्तम्भ की मजबूत होना बहुत आवश्यक है। क्योंकि चैथा स्तम्भ यानि मीडिया ही समाज और सरकार के नाक कान आंख होते हैं। वे ईमानदारी से अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर समाज और सरकार को सचेत करते रहते हैं। ऊर्जा मंत्री  प्रद्युम्न सिंह तोमर ने सोमवार को हरीश वार्ता साप्ताहिक समाचार पत्र के विमोचन अवसर पर यह बात कही। ग्वालियर के फूलबाग स्थित प्रेस क्लब भवन में आयोजित कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री ने पत्रकार बीमा निधि की राशि पिछले वर्ष के बराबर रखने का भरोसा देते हुए कहा कि वे मुख्यमंत्री जी के समक्ष पत्रकारों की यह मांग रखेंगें।  

वरिष्ठ पत्रकार सुरेश सम्राट ने कहा कि आज के दौर में समाचार पत्र प्रारंभ करना काफी चुनोती पूर्ण कार्य है। समाचार पत्र के प्रकाशक एवं संपादक हरीश चन्द्रा ने यह साहसिक निर्णय लिया है। बच्चन बिहारी जी ने कहा कि आज समाचार पत्र निकालना ठीक वैसे ही है, जैसे सीमा पर तैनात रहकर देश की रक्षा करना। मध्य प्रदेश पत्रकार संघ के प्रदेश अध्यक्ष  सुरेन्द्र माथुर का कहना था कि पत्रकार आज कठिन दौर में है। पत्रकार एवं समाचार पत्रों को चुनौतियों का सामना करना पड रहा है। समाज को दिशा देने में समाचार पत्रों की जिम्मेदारी और ज्यादा बढ़ गई है।  सुरेश दंडौतिया का कहना था कि पत्रकारिता कठिन दौर में भी समाज को राह दिखाती है।

प्रेस क्लब के अध्यक्ष व पत्रकार संघ के संस्थापक महासचिव राजेश शर्मा ने ऊर्जा मंत्री  प्रद्युम्न सिंह तोमर से मांग की कि पत्रकार बीमा की राशि बढा दी गई है। वर्तमान में पत्रकार काफी चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। इसलिये पिछले वर्ष के बराबर यह राशि रखी जाए। कार्यक्रम का संचालन करते हुए श्री सुरेश शर्मा ने हरीश वार्ता समाचार पत्र के प्रकाशक व संपादक हरीश चन्द्रा की पत्रकारिता पर विस्तृत प्रकाश डाला। आरंभ में श्री हरीश चन्द्रा ने समाचार पत्र के प्रकाशन की भूमिका की जानकारी दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता हरीश चन्द्रा के पिता  परशुराम कुशवाह ने की। आभार श्री राजेन्द्र तलेगांवकर ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में वरिष्ठ व युवा पत्रकार उपस्थित रहे।