शादी के नाम पर ठगी करने वाली ...

दुल्हन की पंडित ने खोल दी पोल,पहुंच गई जेल



फिरोजपुर। पंजाब के फिरोजपुर जिले के कैंट इलाके में शादी के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह को पुलिस ने पकड़ लिया। एक मंदिर में शादी के दौरान पंडित ने दुल्हन का आधार मांगा तो उन्होंने कहा कि कल इसी आईडी वाली लड़की की शादी करवा चुका हूं। इसके बाद पंडित ने दूसरी आईडी मांगी तो दुल्हन के साथ आए रिश्तेदार फरार हो गए। वहीं घटना की सूचना पुलिस को दी गई। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और दुल्हन के साथ-साथ कुछ अन्य लोगों को पकड़ लिया। पुलिस ने कुल 7 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। दर्ज कराई गई शिकायत में बताया गया है कि फतेहाबाद के रहने वाले रवि की शादी के लिए उसके परिजन लड़की तलाश रहे थे।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान उन्हें एक बिचौलिया मिला। उसने लड़के के मामा से कहा कि फिरोजपुर में एक लड़की है, जिसे आप देख सकते हैं और शादी करने का विचार बना सकते हैं। इसके बाद लड़का और उसके मामा दोनों फिरोजपुर पहुंच गए। वहां उनकी मुलाकात दीपा नाम की महिला से हुआ। बातचीत करने के बाद दोनों ने दीपा का आईडी फ्रूफ भी देखा और फिर शादी की बात फाइनल हो गई। इसके बाद रवि के परिजनों ने शादी की तैयारी शुरू कर दी और जेवरात भी खरीद लिये। वहीं लड़की पक्ष के लोग मंदिर पहुंच गए। मंदिर में शादी की रस्में शुरू हुईं तो पुंडित ने लड़की का आधार कार्ड मांगा।

जब लड़की के साथ आए कथित रिश्तेदारों ने तारा अरोड़ा के नाम का आधार कार्ड दिखाया तो पुजारी ने बताया कि उन्होंने कल इसी आईडी वाले नाम से शादी कराई है। इसके बाद पुजारी ने बीते दिन हुई शादी का सबूत भी दिखाया। पंडित ने जब लड़की से असली आईडी प्रूफ मांगा तो उसके साथ आए लोग फरार हो गए। वहीं जब शक बढ़ने लगा तो पुलिस को सूचना दे दी गई। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और दुल्हन सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं इस घटना को लेकर फिरजोपुर जिले के कैंट थाना के प्रमुख जसविंद सिंह बराड़ ने कहा कि आरोपी एक गिरोह बनाकर लोगों के साथ शादी के नाम पर ठगी कर रहा था।