जीएसटी में संशोधन से व्यापारियों के लिये राहत नहीं : कैट

मौजूदा समय में कारोबार करना कठिन हो गया है:बी.सी.भरतिया


सतना l सतना में आयोजित कैट के मध्यप्रदेश राज्य स्तरीय सम्मेलन में कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी.भरतिया ने कहा कि सरकार के वित्त विभाग ने एवं जीएसटी काउंसिल ने जीएसटी में 1150 से अधिक संशोधन किये हैं,लेकिन दुःख की बात है कि यदि व्यापारी अपने जीएसटी रिटर्न में कोई संशोधन करना चाहे तो यह उसको अधिकार नहीं दिया है। सरकार की नीति और नियत अलग होने से मौजूदा समय में कारोबार करना कठिन हो गया है। देश में राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय ऑनलाइन कंपनियों ने सरकार की नीतियों का मजाक बना दिया है। उन्होंने स्पष्ट मांग की है कि जीएसटी में व्यापारियों को भूल सुधार का अवसर मिलना चाहिये। 

श्री भरतिया ने कहा कि  राज्यभर के बैंक प्रबन्धन के मनमाने ढंग से ग्राहकों एवं व्यापारियों के साथ की जा रही ज्यादतियों पर भी कटाक्ष करते हुये कहा कि अगर इसी प्रकार चलता रहा तो कैट को देशभर में व्यापारियों के लिये अलग बैंक बनाने के बारे में विचार करना पडेगा। कार्यक्रम में कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय पटवारी, सतना के नवनियुक्त महापौर योगेश ताम्रकार, कैट मध्यप्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र जैन, महामंत्री मुकेश अग्रवाल ने भी सम्मेलन को सम्बोधित किया। 22 जिलों के व्यापारी प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुये कैट मध्यप्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र जैन ने जिला व्यापार संबर्धन समिति, थाना स्तरीय व्यापारित समिति की जानकारी दी और सभी व्यापारियों से अपने जिले में इसके गठन के लिये कार्यवाही करने का अनुरोध किया।

प्रदेश उपाध्यक्ष सन्देश जैन, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य जितेन्द्र पचौरी, जबलपुर जिला अध्यक्ष दीपक सेठी ने इस सम्मेलन में व्यापारिक समस्याओं पर अपनी बात रखी। इस अवसर पर सतना शहर के प्रतिष्ठित कारोबारियों को भामाशाह सम्मान देकर सम्मानित किया गया । इसमें लक्ष्मी प्रसाद अग्रवाल, वीरभानदास पुरूषवानी, भोजराज वाधवानी, प्रेमलता अवस्थी को राष्ट्रीय अध्यक्ष ने शोल व श्रीफल भेंट किया। प्रदेश स्तरीय सम्मेलन में प्रदेश सचिव अशोक दौलतानी, प्रदेश संगठन मंत्री गोविन्ददास असाटी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य महेश थरवानी ने चेम्बर आफ कामर्स सतना के पूर्व अध्यक्ष मोतीलाल गोयल एवं उपस्थित अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर सतना म.प्र.चेम्बर आफ कामर्स के पूर्व अध्यक्ष कमलेश पटेल ने स्वागत भाषण प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में कैट के अनेक व्यापारी उपस्थित थे ।