पुलिस की वर्दी में आए थे आरोपी…

गोहद में लूट व हत्या की घटना का हुआ खुलासा, दो आरोपी पुलिस की गिरफ्त में


भिंड। पुलिस ने दिनांक 14 अगस्त को थाना गोहद क्षेत्र के मुख्य बाजार में दिन दहाड़े अज्ञात बदमाशों द्वारा की गयी लूट व हत्या की घटना का खुलासा कर पटना में सम्मिलित दो आरोपियों को किया गिरफ्तार शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी। दिनांक 14 अगस्त को रामकुमार गोयल उम्र करीब 70 साल निवासी वार्ड क्रमांक 11 पॉस्ट ऑफिस के सामने गोहद के घर पर तीन अज्ञात बदमाश जिसमें से दो पुलिस की वर्दी में तथा एक सादा कपड़ो में शाम 4.30 बजे के लगभग घर के अंदर घुसे, घर में रामकुमार गोयल तथा उसकी लङकी रिन्की उम्र 28 साल थे तीनों बदमाशों ने घर में घुस कर रामकुमार गोयल से उसके लडके लक्की के बारे में पूछा तथा दोनो को घर के अंदर ले गये और रामकुमार तथा उसकी लड़की के हाथ पैर बांध के मूह में कपड़ा ठूंस दिया व घर में रखी 15 लाख रूपये नगदी व सोने चाँदी के आभूषण लूट कर ले गये।घटना के कुछ समय पश्चात पडोसियों की मदद से रामकुमार तथा उसकी पुत्री को बंधन से मुक्त कराया तथा लडकी रिंकी बेहोश अवस्था में होने से उसे इलाज के लिये सीएचसी गोहद में ले गये। 

जहाँ डॉक्टरों द्वारा लड़की को मृत घोषित कर दिया गया जिस पर फरियादी रामकुमार गोयल की रिपोर्ट पर थाना गोहद में अप.क्र. 269/22 धारा 394,302,34 भादवि एवं 11.13 एमपीडीपीके अधि के तहत अपराध पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया। घटना की गंभीरता तथा संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय भिण्ड के द्वारा एक विशेष टीम का गठन कर अज्ञात आरोपियों की पतारसी हेतु भरसक प्रयास प्रारम्भ किये गये। पुलिस अधीक्षक महोदय के निरंतर मार्गदर्शन में टीम के सभी सदस्यों ने त्वरित कार्यवाही करते हुए कस्बे के लगभग सभी सीसीटीवी कैमरा की रिकार्डिंग को चैक किया तथा जानकारी एकत्र की। जिसमें पता चला कि घटना कारित करने के बाद तीनों बदमाश सफेद रंग की बिना नम्बर प्लेट की अपाचे मोटर सायकल पर फरार हुए हैं। किन्तु सीसीटीव्ही फुटेज से किसी भी बदमाश की पहचान नहीं हो सकी। 

15 अगस्त को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि घटना के कुछ दिन पहले सोने चाँदी की कारीगरी करने वाले रामू उर्फ रामानन्द सोनी जिसकी साहू वाली गली रघुनाथ जी का बाडा गोहद पर दुकान है के यहाँ कुछ अज्ञात लोगों का आना जाना हुआ है जिनकी गतिविधियों संदिग्ध थी जिस पर तस्दीक हेतु रामू उर्फ रामानन्द सोनी को थाना गोहद में बुला कर विस्तृत पूछताछ की गई तो उसने बताया कि उसके ऊपर काफी कर्जा था जिसे चुकाने के लिये उसने कमली उर्फ कबिलास गुर्जर पुत्र सुजान सिंह गुर्जर निवासी ग्राम बनीपुरा, योगेश बैसला, बृजेश कौशल, बालेन्द्र सिंह गुर्जर एवं एक अन्य व्यक्ति जिसे वह नहीं जानता है के साथ मिल कर रामकुमार गोयल के घर पर डकैती डालने की योजना बनाई थी तथा बदमाशों को रामकुमार गोयल का घर दिखाया था। उक्त डकैती के लिये आरोपी योगेश बैसला ने गोहद से ही एक सफेद रंग की अपाचेमोटर सायकल का इंतजाम किया तथा योगेश बृजेश कौशल व एक अन्य साथी के साथ कर दिनांक 14 अगस्त को पुलिस की वर्दी का इस्तेमाल कर लूट एवं हत्या की घटना को अंजाम दिया। 

पूछताछ पर राम सोनी ने लूटे गये रूपयों में से एक लाख रूपये स्वयं के घर पर छुपाकर रखना बताया जिस पर आरोपी राम उफ रामानन्द मोनी को गिरफ्तार कर लूटे गये रुपये आरोपी के घर से बरामद किये गये तथा घटना में प्रयुक्त अन्य साक्ष्य भी आरोपी के घर व दुकान से एकत्रित किये गये तथा घटना के अन्य आरोपियों की तलाश के दौरान तत्परता से आरोपी कपिलाश उर्फ कपिला गुर्जर नि. बनीपुरा थाना गोहद पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की तो आरोपी कपिलाश ने रामू सोनी द्वारा बताई गई घटना की पुष्टी की घटना में सम्मनित आरोपी योगेश वैसला, बृजेश कौशल तथा अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। उक्त घटना के आरोपी योगेश बैसला, कविलास गुर्जर एवं बृजेश कौशल अन्तरराज्यीय शातिर अपराधी हैं जिनके विरुध्द म.प्र., उ.प्र. हरियाणा व अन्य राज्यों के कई जिलों में लूट व चोरी के अपराध पंजीबध्द हैं। हाल ही मथुरा (उ.प्र.) में एक फॉर्चूनर गाड़ी की लूट की घटना में बांचित हैं।