आरोपियों का 370 किमी पीछाकर, दो आरोपी धराए…

नारकोटिक्स ने ढाई किवंटल गांजा किया जब्त, ट्रांसफार्मर में छिपाकर ले जा रहे थे तस्कर

उज्जैन। ट्रांसफर में छूपाकर ला रहे गांजे की खेप को डिलेवर होने से पहले नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने तराना में सोमवार शाम दो तस्करों को पकड़कर करीब ढाई क्वींटल गांजा जब्त किया है। नारकोटिक्स की टीम उनका बैतूल से पीछा कर रही थी। सोमवार शाम नारकोटिक्स की टीम ने आरोपियों का 370 किमी पीछाकर तराना में ट्रांसफार्मर ले जा रहे छोटा हाथी वाहन को पकड़ा। 

तलाशी में खोखले ट्रांसफार्मर गांजे से भरे 10 पैकेट मिले,जिनकी कीमत करीब दो लाख रुपए बताई जा रही है। मामले में टीम ने कोटा निवासी रमेश व तराना स्थित ग्राम शंकरगढ़ का बंजारा को पकड़ा। सूत्रों के अनुसार एनसीबी को पता चला था कि दोनों गांजे की तस्करी करते है और ट्रांसफार्मर सप्लाय की आड़ में गांजा भरकर भेजा जा रहा है। इस पर एनसीबी वाहन पर बैतूल से नजर रखे हुए थी और तराना पहुंचते ही उसे पकड़ लिया। 

मामले में एएसपी आकाश भूरिया ने बताया कि कार्रवाई एनसीबी ने की है। पूरा मामला अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। गौरतलब है तराना स्मलिंग का प्रमुख मार्ग बन गया है। पूर्व में भी एनसीबी यहां से बड़ी मात्रा में नशीला पदार्थ जब्त कर चूकी है। तराना में स्मैक व गांजा सप्लायर भी बड़ी संख्या में हो गए है। पुलिस को भी पुडिय़ाबाजों की जानकारी है। पुलिस ने करीब एक माह पहले एक पुडिय़ाबाज को पकड़कर उसके घर से माल बरामद भी किया था।