गृह मंत्री ने झंडी दिखाकर चलित ब्लड बैंक वाहन रवाना किया…

जरूरतमंदों का जीवन बचाने में उपयोगी साबित होगा चलित ब्लड बैंक : डॉ. मिश्रा

ग्वालियर। गृह, जेल, संसदीय कार्य एवं विधि विधायी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने रविवार को डबरा में झंडी दिखा कर चलित ब्लड बैंक वाहन डबरावासियों की सेवा के लिए रवाना किया। भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी की उपशाखा डबरा को  भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी के राष्ट्रीय कार्यालय नई दिल्ली द्वारा आधुनिक उपकरणों से सुसज्जित यह चलित ब्लड बैंक वाहन प्रदान किया है। इस अवसर पर गृह मंत्री डॉ मिश्र ने कहा कि डबरा रेडक्रॉस सोसायटी के प्रयासों से डबरा क्षेत्र को चलित ब्लड बैंक के रूप में बड़ी उपलब्धि मिली हैं। 

इससे जरूरतमंदों का जीवन बचाने के लिए जल्द से जल्द रक्त उपलब्ध हो सकेगा। गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा डबरा की रेड क्रॉस सोसायटी से जुड़े सामाजिक संगठनों का सेवाभाव अद्भुत हैं। इसी के फलस्वरूप डबरा को चलित ब्लड बैंक की सौगात मिली हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में बहुत पहले से स्वास्थ्य की रक्षा के लिए मर्यादाएँ एवं परम्पराएँ चली आ रही हैं। इसीलिए कोरोना संकट पर काबू पाने में मदद मिली।

डॉ. मिश्र ने कहा कि विश्व के तमाम विकसित राष्ट्र वर्तमान में भी कोरोना संकट से जूझ रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दूरदर्शिता एवं सूझ बूझ की बदौलत अपने देश ने सफलता पूर्वक कोरोना संकट पर नियंत्रण प्राप्त किया हैं। उन्होंने डबरा को चलित ब्लड बैंक वाहन मिलने पर रेड क्रॉस सोसायटी के सभी पदाधिकारियों एवं डबरा वासियों को बधाई दी। 

डबरा के संत कंवरराम स्कूल में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में डबरा रेड क्रॉस सोसायटी के वाइस चेयरमैन एवं एसडीएम प्रदीप कुमार शर्मा, सचिव दीपक भार्गव तथा वसंत कुकरेजा व राजू कुकरेजा सहित रेड क्रॉस सोसायटी के अन्य पदाधिकारी, सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधिगण एवं संबंधित अधिकारी मौजूद थे। डबरा को मिले चलित ब्लड बैंक वाहन अत्याधुनिक उपकरणों से सुसज्जित हैं। इसमें रक्त लेने और चढ़ाने की सुविधा उपलब्ध हैं। दूर दराज के क्षेत्रों तक इस चलित ब्लड बैंक के जरिए सुविधा जनक तरीके से रक्त दान शिविर लगाए जा सकते हैं। साथ ही जरूरतमंद मरीजों को मौके पर जाकर रक्त चढ़ाया जा सकता हैं।