शिक्षक भर्ती घोटाले में हुई कार्रवाई…

ममता बनर्जी के मंत्री पार्थ चटर्जी को ED ने किया गिरफ्तार

ईडी ने ममता बनर्जी के मंत्री पार्थ चटर्जी को गिरफ्तार कर लिया है। शिक्षक भर्ती घोटाला मामले को लेकर छापेमारी और पूछताछ के बाद चटर्जी को गिरफ्तार किया गया है। उनके करीबियों से ईडी ने करोड़ों रुपये कैश और सोना बरामद किया है। शुक्रवार 22 जुलाई को ईडी ने पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के मंत्रियों पर छापेमारी शुरू की थी। जिसके बाद ये छापेमारी अब तक जारी है। पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता के घर से ईडी ने 20 करोड़ रुपये से ज्यादा बरामद किए थे। ईडी ने अर्पिता को भी हिरासत में लिया है। 

बताया जा रहा है कि पिछले कई घंटों से ममता बनर्जी के मंत्री पार्थ चटर्जी से पूछताछ चल रही थी, इस दौरान ईडी ने उनसे कई सवाल पूछे, जिनका जवाब मंत्री नहीं दे पाए। जिसके बाद अब उनकी गिरफ्तारी हो चुकी है। इस मामले में कुछ और लोगों की भी गिरफ्तारी हो सकती है। पश्चिम बंगाल सरकार के मंत्रियों के खिलाफ हो रही ये पूरी कार्रवाई शिक्षक भर्ती घोटाले से जुड़ी है। ये भर्ती प्रक्रिया साल 2016 में शुरू हुई थी। जिसमें आरोप लगाया गया कि फर्जी तरीके से भर्ती कराने के लिए ओएमआर शीट में हेरफेर किया गया। 

इसमें लाखों रुपये घूस लेकर फेल उम्मीदवारों को पास कराया गया। आरोप है कि इस मामले में सीधे शिक्षा मंत्री शामिल थे। बताया जा रहा है कि इसमें कई लोग शामिल थे, जिनकी गिरफ्तारी जल्द हो सकती है। बता दें कि ईडी ममता के एक और मंत्री परेश अधिकारी के घर पर छापेमारी कर रही है। साथ ही उनके करीबियों से भी पूछताछ की जा रही है। इनके अलावा भर्ती घोटाले से जुड़े अन्य अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई जारी है। पार्थ चटर्जी की गिरफ्तारी के बाद अब ईडी पूछताछ के लिए उनकी रिमांड मांग सकती है।