पैसों से जुड़े सवाल का जवाब नहीं दे पाए शिवसेना नेता…

ED ने संजय राउत के घर से ज़ब्त किए 11.50 लाख रुपये

प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने रविवार को मुंबई में पात्रा चॉल भूमि घोटाला मामले में शिवसेना नेता संजय राउत के आवास पर छापेमारी के बाद उन्हें हिरासत में लिया है। संजय राउत के घर से ईडी को 11.5 लाख रुपये मिले हैं। ईडी शिवसेना नेता संजय राउत से उन पैसों की जानकारी मांग रही है कि ये पैसे किसके हैं और कहां से आए हैं। ईडी के एक बड़े अधिकारी ने बताया कि संजय राउत इन पैसों से जुड़े सवाल का जवाब नहीं दे पाए जिसके बाद इन पैसों को सीज किया गया है और आगे की जांच कर रहे हैं। हालांकि इसी बीच संजय राउत के वकील ने दावा किया है कि उन्हें ईडी ने हिरासत में नहीं लिया है। 

संजय राउत के वकील ने कहा कि ईडी को कुछ दस्तावेज चाहिए थे और हमें फ्रेश समन दिया गया। उसी को लेकर संजय राउत बयान दर्ज करवाने ईडी के दफ्तर गए हैं। उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया है। इससे पहले आज दिन में ईडी ने संजय राउत के आवास पर छापेमारी की थी। ईडी के अधिकारी सुबह करीब सात बजे संजय राउत के मुंबई स्थित आवास पर पहुंचे थे। करीब 9 घंटे तक संजय राउत से पूछताछ करने के बाद ईडी के अधिकारी उन्हें अपने साथ ले गए थे। 

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इस साल 28 जून को संजय राउत को 1,034 करोड़ रुपये के पात्रा चॉल भूमि घोटाले से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग मामले के संबंध में तलब किया था। संजय राउत से एक जुलाई को ईडी ने पूछताछ की थी। इसके बाद उन्हें दो बार और समन जारी किया गया था। संजय राउत ने जांच में शामिल होने से इनकार करते हुए संसद के मानसून सत्र को जांच में शामिल नहीं होने का कारण बताया था। इसी साल अप्रैल में, ईडी ने इस मामले की जांच के तहत संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत और उनके दो सहयोगियों की 11.15 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति को अस्थायी रूप से कुर्क किया था।