नगर पालिक निगम ग्वालियर सहित जिले के सभी नगरीय निकायों की मतगणना आज…

आज महापौर पद के 7 एवं पार्षद पद के 816 प्रत्याशियों के भाग्य का होगा फैसला

ग्वालियर। नगर पालिक निगम ग्वालियर सहित जिले के सभी नगरीय निकायों की मतगणना की सभी तैयारियाँ पूर्ण कर ली गई हैं। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के तहत 17 जुलाई को प्रात: 9 बजे से मतगणना शुरू होगी। शनिवार को जिले के सभी नगरीय निकायों में मतगणना के लिए निर्धारित गणना कक्षों में मतगणना की फायनल रिहर्सल हुई। रिटर्निंग व सहायक अधिकारियों एवं मास्टर ट्रेनर्स ने गणना पर्यवेक्षक व गणना सहायकों को विस्तारपूर्वक मतगणना की बारीकियाँ समझाईं। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने स्पष्ट किया है कि राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशों का पालन करते हुए पूरी पारदर्शिता के साथ मतगणना की जायेगी। उन्होंने सभी प्रत्याशियों एवं अभिकर्ताओं से कहा है कि वे आयोग के निर्देशों का पालन कर मतगणना में सहयोग करें। नगर निगम ग्वालियर के महापौर पद के 7 व सभी 66 वार्डों से चुनाव लड़ रहे पार्षद पद के 358 प्रत्याशियों सहित जिले के सभी नगरीय निकायों के पार्षद पद के कुल 816 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतगणना के बाद होगा।

नगर पालिका डबरा के सभी 30 वार्डों में पार्षद पद के 146, नगर परिषद आंतरी के 15 वार्डों में 37, भितरवार के 15 वार्डों में 83, बिलौआ के 15 वार्डों में 62, पिछोर के 15 वार्डों में 50 एवं नगर परिषद मोहना के सभी 15 वार्डों में कुल 80 प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा है। नगर निगम ग्वालियर की मतगणना यहाँ शासकीय आदर्श विज्ञान महाविद्यालय में होगी। इसी प्रकार नगर पालिका डबरा की मतगणना नवीन कृषि उपज मंडी परिसर डबरा, नगर परिषद पिछोर की शासकीय बालक उमावि पिछोर, बिलौआ की शासकीय जमाहर उमावि बिलौआ, भितरवार की शासकीय उत्कृष्ट उमावि भितरवार, आंतरी की बापू उमावि आंतरी एवं नगर परिषद मोहना की मतगणना सेंट एंथोनी स्कूल मोहना में होगी। मतगणना के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहेंगे। बगैर प्रवेश पत्र के किसी को भी मतगणना परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। मतगणना के प्रवेश द्वार पर हर व्यक्ति की बारीकी से जाँच की जायेगी। राज्य निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुसार सबसे पहले निर्वाचन कर्तव्य मत पत्रों की गिनती शुरू होगी। इसके आधा घंटे बाद ईवीएम (इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन) के वोटों की गिनती शुरू की जायेगी। 

दोनों प्रकार के मतों की गिनती समानान्तर रूप से जारी रह सकेगी। ग्वालियर नगर पालिक निगम में डाले गए मतों की गिनती यहाँ शासकीय आदर्श विज्ञान महाविद्यालय में होगी। गणना के लिए 6 कक्ष निर्धारित किए गए हैं। हर कक्ष में 11 – 11 टेबल लगाई जायेंगी। इस प्रकार हर वार्ड के लिए एक टेबल निर्धारित की गई है। हर गणना टेबल पर एक गणना पर्यवेक्षक व दो गणना सहायक तैनात रहेंगे। इस प्रकार एक टेबल पर तीन अधिकारी मतों की गिनती के लिए तैनात किए जायेंगे। महापौर पद के लिये प्राप्त निर्वाचन कर्तव्य मत पत्रों की गणना रिटर्निंग अधिकारी की टेबल पर की जायेगी। पार्षद पदों के लिए प्राप्त हुए निर्वाचन कर्तव्य मत पत्र संबंधित वार्ड की टेबल पर गिने जायेंगे। मतगणना परिसर में मोबाइल फोन, बीड़ी, सिगरेट, गुटखा, तम्बाकू, खाद्य पदार्थ, पानी की बोतल, कैंची, चाकू, ब्लैड, माचिस व अन्य ज्वलनशील पदार्थ इत्यादि ले जाना प्रतिबंधित रहेगा। दोनों प्रवेश द्वारों पर व्यक्तिश: इसकी सघन जाँच की जायेगी। जिला निर्वाचन अधिकारी कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा है कि गणना के दिन उक्त सामग्री कदापि लेकर न आएं। उन्होंने कहा मतगणना परिसर में गहन जाँच और प्रवेश पत्र देखने के बाद ही प्रवेश की अनुमति दी जायेगी। 

नगर निगम ग्वालियर की मतगणना पर नजर रखने के लिए प्रत्याशियों द्वारा नियुक्त किए गए गणना अभिकर्ता शासकीय आदर्श विज्ञान महाविद्यालय के गेट नं.-1 से मतगणना परिसर में प्रवेश कर सकेंगे। गणना अभिकर्ताओं के वाहनों की पार्किंग व्यवस्था अचलनाथ मैरिज गार्डन में की गई है। मतगणना के लिये तैनात किए गए शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारी आदर्श विज्ञान महाविद्यालय के गेट नं.-2 से प्रवेश कर सकेंगे। शासकीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों की पार्किंग व्यवस्था मायरा मैरिज गार्डन में की गई है। प्रवेश पत्र धारी मीडिया प्रतिनिधिगण अपने वाहनों को हरिदर्शन स्कूल में पार्क कर आदर्श विज्ञान महाविद्यालय के गेट नं.-2 से मतगणना परिसर में प्रवेश कर सकेंगे। मतगणना कर्मियों एवं अभिकर्ताओं के साइंस कॉलेज में प्रवेश के बाद विवेकानंद चौराहे से चंद्रबदनी नाका चौराहे तक नो व्हीकल जोन रहेगा अर्थात आवागमन को पूर्णत: प्रतिबंधित कर दिया जायेगा। मतगणना के दिन झाँसी, गुना व शिवपुरी की ओर से आने वाली बसें सिकरौदा तिराहे से सचिन तेंदुलकर मार्ग होते हुए बर स्टेण्ड तक पहुँच सकेंगीं। इसके अलावा अन्य छोटे वाहन चेतकपुरी, अचलेश्वर चौराहा, मांढरे की माता, कैंसर पहाड़िया व चंद्रबदनी नाका होकर शहर में प्रवेश कर सकेंगीं।