शहरी पथ विक्रेताओं एवं उनके परिवार के सदस्यों के साथ अटल सभागार में…

आजादी का अमृत महोत्सव के अन्तर्गत स्वनिधि महोत्सव का आयोजन 30 को 

ग्वालियर। ग्वालियर शहर के शहरी पथ विक्रेताओं एवं उनके परिवार के सदस्यों के साथ आजादी का अमृत महोत्सव के अन्तर्गत ‘स्वनिधि महोत्सव’ के रंगारंग कार्यक्रम का भव्य आयोजन दिनांक 30 जुलाई 2022 को समय सायं 4 बजे से रात्रि 8 बजे तक जीवाजी विश्वविद्यालय के अटल सभागार में आयोजित किया जा रहा है। उपायुक्त श्रम कल्याण मिनी अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि निगमायुक्त किशोर कन्याल के निर्देशानुसार आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत मुख्य कार्यक्रम का आयोजन 30 जुलाई 2022 को सायं 4 बजे से जीवाजी विश्व विद्यालय के अटल सभागार में किया जाएगा। 

जिसमें स्ट्रीट फूड वेंडर की प्रदर्शनी सह विक्री, स्वसहायता समूहों द्वारा बनाये गए प्रदर्शनी सह विक्री, ऋण मेला का आयोजन, डिजीटल प्रशिक्षण, परिचय पत्र बोर्ड का वितरण, सांस्कृतिक कार्यक्रम, पुरूस्कार वितरण एवं पथ विक्रेताओं का सम्मान किया जाए। कोविड- 19 महामारी और लॉकडाउन से पथ विक्रेताओं की आजीविका पर बुरा प्रभाव पड़ा। यह लोग प्रायः कम पूंजी से कार्य करते है। लॉकडाउन के दौरान अधिकतम पथ विक्रेताओं की पूंजी समाप्त हो गई। इन पथ विक्रेताओं को अपना काम फिर से शुरू करने के लिये कार्यशील पूंजी की अति अवश्यकता है। शहरी पथ विक्रेताओं को कार्यशील पूंजी ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा पी. एम. स्वनिधि योजना लागू की गई। 

प्रथम कार्यशील पूंजी ऋण 10 हजार, पूर्ण चुकता करने पर पथ विक्रेताओं को द्वितीय ऋण 20 हजार एवं तृतीय ऋण 50 हजार दिये जाने का प्रावधान है, प्रत्येक शहरी पथ विक्रेताओं को डिजिटल लेन-देन पर अधिकतक 100रू. मासिक कैशबेक के रूप में प्रदान किया जा रहा है। उक्त योजना में मध्यप्रदेश भारत में द्वितीय स्थान पर है। योजनान्तर्गत शहरी पथ विक्रेताओं को शासन की अन्य 8 योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री मातृ बंदना योजना, प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना, एक राष्ट एक राशनकार्ड, जननी सुरक्षा योजना, भवन संनिर्माण योजना आदि से लाभांवित किया जा रहा है। योजना में नगर निगम, ग्वालियर द्वारा 51358 पथ विक्रेता का पंजीयन किया गया है। 

जिसमें से समस्त पथ विक्रेताओं को परिचय पत्र एवं वेंडिंग सर्टीफिकेट जारी किये गये है। 29121 पथ विक्रेताओं को राशि 10,000/- के मान से कुल राशि 29.12 करोड़ का कार्यशील पूंजी ऋण उपलब्ध कराया जा चुका है।  द्वितीय चरण के 2585 पथ विक्रेताओं को राशि 20,000/- के मान से कुल राशि 5.17 करोड़ का कार्यशील पूंजी ऋण उपलब्ध कराया जा चुका है। द्वितीय चरण के 04 पथ विक्रेताओं को राशि 50,000/- के मान से कुल राशि 2.0 लाख का कार्यशील पूंजी ऋण उपलब्ध कराया जा चुका है। योजनान्तर्गत सफल पथ विक्रेता अभिषेक चैरसिया, पोहा, जलेबी ठेला, सिटी सेन्टर ग्वालियर में ठेला लगाते है।