पिछले 24 घंटों के दौरान दो मुठभेड़ में दो आतंकियों को मार गिराया…

सोपोर में सैन्य काफिला उड़ाने की साजिश नाकाम

नईदिल्ली। भारतीय सुरक्षाबलों को आज बड़ी सफलता मिली है सुरक्षाबलों ने कश्मीर में पिछले 24 घंटों के दौरान दो मुठभेड़ में दो आतंकियों को मार गिराया। इसके अलावा अनंतनाग में दो आतंकियों को गिरफ्तार भी किया गया है। श्रीनगर को मुजफ्फराबाद से जोड़ने वाली सड़क पर हैगाम (सोपोर) के निकट आइईडी से सैन्य काफिले को उड़ाने की साजिश को भी सुरक्षाबलों ने नाकाम बना दिया। शनिवार दोपहर बाद पुलिस को दक्षिण कश्मीर के द्रबगाम (पुलवामा) में आतंकियों के एक दल के छिपे होने की सूचना मिली। पुलिस ने उसी समय सेना की 44 आरआर के जवानों के साथ मिलकर द्रबगाम में तलाशी अभियान चलाया। 

जवानों को अपने ठिकाने की तरफ आते देख आतंकियों ने गोलीबारी कर दी। जवानों ने भी जवाबी फायर कर आतंकियों को मुठभेड़ में उलझा लिया। शाम साढ़े छह बजे शुरू हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया। उसके अन्य साथियों और सुरक्षाबलों के बीच देर शाम तक मुठभेड़ जारी थी। सुरक्षाबलों ने खुडहमाम डुरू में जांच के दौरान दो आतंकियों राहिल अहमद मलिक और शब्बीर अहमद राथर को पकड़ा। ये दोनों महमूदाबाद के रहने वाले हैं। उनके पास से एक पिस्तौल, एक मैगजीन और 11 कारतूस मिले हैं। यह दोनों कुछ समय पहले ही लश्कर में शामिल हुए थे। दोनों से पूछताछ जारी है। 

सुरक्षाबलों ने जैसे ही आतंकी ठिकाने की घेराबंदी की, आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। यह मुठभेड़ शनिवार सुबह करीब पांच बजे समाप्त हुई। सूर्योदय के बाद जवानों ने मुठभेड़स्थल की तलाशी लेते हुए एक आतंकी का गोलियों से छलनी शव, एक थ्री नाट थ्री राइफल, 23 कारतूस, एक पिस्तौल व 31 कारतूस और एक हथगोला बरामद किया। मारा गया आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन का रसिक अहमद गनई कुलगाम का रहने वाला था। स्थानीय सूत्रों के मुताबिक, उसके साथ दो आतंकी और भी थे, जो मुठभेड़ शुरू होते ही भाग निकले, लेकिन पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है।