14 अरब की लागत से बनने वाली सड़क मंजूर…

ओरछा के रामराजा के पास श्रद्धालुओं की पहुंच होगी आसान !

दमोह। विश्व प्रसिद्ध ओरछा के रामराजा सरकार तक सीधी कनेक्टिविटी हो गई है। राज्य औ राष्ट्रीय राजमार्ग को मिलाकर इसे जोड़ने का काम किया गया है। इसको लेकर केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने प्रेस वार्ता में 14 अरब की लागत से बनने वाली सड़कों के संबंध में जानकारी दी पीएम गति शक्ति और हाईवे के उत्थान की योजना भारत सरकार की है, इसमें रेल सड़क हवाई कनेक्टिविटी पर प्राथमिकता देने का संकल्प है। 

इसी के तहत जबलपुर, दमोह, हीरापुर, टीकमगढ़, ओरछा राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण की स्वीकृति प्रदान की गई। दमोह सांसद और भारत सरकार के खाद्य प्रसंस्करण, जल शक्ति राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल का कहना है कि भगवान राम राजा के पास अब सीधी सड़क का इस्तेमाल कर पहुंच सकते हैं।इससे ज्यादा प्रसन्नता की बात क्या हो सकती है। उन्होंने आगे कहा इसके लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का किन शब्दों में धन्यवाद ज्ञापन करूं मुझे समझ नहीं आ रहा। 

उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा लिखे गए पत्र पर कम समय में स्वीकृति देकर जो सौगात क्षेत्र को दी गई है, उसके लिए मैं अभिभूत हूं। नितिन गडकरी द्वारा दमोह को एक सौगात दी गई है, जिसमें अब यहां से राष्ट्रीय राजमार्ग निकलेगा जिसकी स्वीकृति प्रदान कर दी गई। दमोह सांसद प्रहलाद सिंह पटेल ने पीएम मोदी एक पत्र 17 नवंबर 2021 को लिखते हुए ये मांग की थी जिसमें जबलपुर, दमोह, टीकमगढ़, ओरछा होते हुए झांसी के पहले नॉर्थ साउथ कॉरिडोर तक राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने का आग्रह किया गया था। 

इसी पत्र के आधार पर 1 जून 2022 को पटेल को पत्र लिखकर स्वीकृति की घोषणा कर दी गई है। प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा पंचायत चुनाव को लेकर जो आरक्षण प्रक्रिया लागू की गई है, उसके लिए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार व्यक्त करता हूं। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था में सबसे मजबूत कड़ी है। पटेल ने कहा कि चुनाव लड़े जाएं लेकिन कटुता ना हों इसका हमें ध्यान रखना है। निर्विवाद रूप से निर्वाचन हो इसके लिए प्रोत्साहन राशि की घोषणा की गई।