मारे गए आतंकियों में 26 विदेशी…

2022 में अब तक मारे गए 83 आतंकी


श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में एक बार फिर से टारगेट किलिंग बढ़ गई है।  कश्मीरी पंडित इस केंद्रशासित प्रदेश के प्रशासन से सुरक्षा की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच जम्मू कश्मीर पुलिस ने गुरुवार को दावा किया है कि सुरक्षा बलों ने 2022 में अबतक 50 मुठभेड़ों के 83 आतंकियों को मार गिराया है। एक सीनियर पुलिस अधिकारी के अनुसार, जनवरी के बाद से सुरक्षा बलों ने आतंकियों के खिलाफ अभियान को तेज कर दिया है। 

सुरक्षा बल उग्रवादियों की मौजूदगी की विश्वसनीय रिपोर्टों के आधार पर कार्रवाई कर रहे हैं। आतंकवाद विरोधी अभियानों में तकनीकी और ह्यूमन इंटेलिजेंस की मदद ली जा रही है। उन्होंने बताया कि इस साल यानी 2022 में अब तक 115 लोग मारे जा चुके हैं, इनमें 16 सिविलियन और सुरक्षाबलों के 16 जवान भी शामिल हैं। बाकी मारे गए 83 आतंकी थे। इसके अलावा 40 से अधिक हाइब्रिड आतंकियों को गिरफ्तार भी किया गया है। कश्मीर जोन के आईजी विजय कुमार ने बताया कि मारे गए आतंकियों में 26 विदेशी थे। 

इनमें 12 आतंकवादियों का संबंध लश्कर-ए-तैयबा और दि रेसिस्टेंट फ्रंट से था जबकि 14 आतंकी जैश-ए-मुहम्मद से जुड़े थे। इससे पहले पुलिस ने दावा किया था कि कुपवाड़ा जिले में घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करने के दौरान हुई मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गए। उत्तरी कश्मीर में 24 घंटे में यह दूसरी मुठभेड़ थी। बारामूला में बुधवार सुबह हुई मुठभेड़ में तीन विदेशी आतंकवादी मारे गए जबकि एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया।