हार्दिक ने फाइनल में पहले गेंदबाजी और फिर बल्लेबाजी में किया कमाल 

हार्दिक पांड्या के तौर पर भारतीय टीम को मिला एक और विकल्प

टी20 वर्ल्ड कप के बाद पिछले साल जिस खिलाड़ी की सबसे ज्यादा आलोचना हुई थी वो हार्दिक थे। टीम इंडिया पर यह आरोप लगा था कि अनफिट होने के बावजूद उन्हें टीम में रखा गया। टूर्नामेंट में हार्दिक का प्रदर्शन भी निराशाजनक रहा। उन्हें अगली सीरीज से बाहर कर दिया गया। उसी हार्दिक पांड्या के नेतृत्व मे गुजरात टाइटंस ने अपने पहले ही सीजन में आईपीएल का खिताब जीत लिया है। रविवार (29 मई) को खेले गए फाइनल मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स को सात विकेट से हरा दिया। इस जीत में किसी का सबसे ज्यादा योगदान है तो वो टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या हैं। हार्दिक ने फाइनल में पहले गेंदबाजी और फिर बल्लेबाजी में कमाल किया। उन्होंने चार ओवर में 17 रन देकर तीन विकेट लिए। इसके बाद मुश्किल समय में 30 गेंद पर 34 रन की पारी खेली। हार्दिक ने जबरदस्त वापसी की, लेकिन उनका यह सफर आसान नहीं रहा है।

गुजरात टाइटंस आईपीएल की नई टीम बनी और उसने हार्दिक को कप्तान चुनकर सबको हैरान कर दिया। इस ऑलराउंडर के पास आईपीएल में कप्तानी का कोई अनुभव नहीं था। यहां तक घरेलू मैचों में भी उन्होंने कप्तानी नहीं की। कप्तान चुनने के बाद गुजरात ने नीलामी में चौंकाया। उसने स्टार खिलाड़ियों को नहीं खरीदा। ऋद्धिमान साहा, डेविड मिलर, विजय शंकर, मैथ्यू वेड जैसे खिलाड़ियों को खरीदने पर टीम की आलोचना हुई। हार्दिक ने इन खिलाड़ियों को एकत्रित किया। उन्होंने लखनऊ सुपर जाएंट्स के खिलाफ पहले ही मैच में जीत हासिल करने के बाद तहलका मचा दिया। टीम ने लीग राउंड में लगातार तीन जीत के साथ शुरुआत की। लोग गुजरात के इस प्रदर्शन से हैरान थे। हार्दिक की टीम ने 14 में से 10 मैच जीत लिए। अंक तालिका में पहले स्थान पर रही। उसके बाद पहले क्वालीफायर में राजस्थान को हराया। फिर इसी टीम को फाइनल में शिकस्त दी।

कप्तानी में भारत को मिला एक और विकल्प

हार्दिक ने जिस स्टाइल में कप्तानी की, वह महेंद्र सिंह धोनी जैसी थी। मैदान पर शांत रहकर खिलाड़ियों से बेस्ट निकलवाया। धोनी को बड़ा भाई मानने वाले हार्दिक सीजन में 'कूल कैप्टन' के रूप में सामने आए। उन्होंने अपनी टीम पर भरोसा किया और लगातार बदलाव नहीं किए। खुद निचले क्रम से मध्यक्रम में आए। मैच फिनिश करने के लिए डेविड मिलर, राहुल तेवतिया और राशिद खान पर विश्वास किया। गेंदबाजी में हार्दिक ने लगातार गेंदबाजों को रोटेट किया। मोहम्मद शमी, लॉकी फर्ग्यूसन और राशिद खान के साथ मिलकर सबसे मजबूत गेंदबाजी आक्रमण बनाया।भारतीय क्रिकेट टीम के नए कप्तान रोहित शर्मा 35 साल के हैं। वो ज्यादा से ज्यादा तीन साल और कप्तानी कर सकते हैं। केएल राहुल, ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह और श्रेयस अय्यर उनके विकल्प माने जाते हैं। इस लिस्ट में हार्दिक पांड्या ने अपना नाम दर्ज करा लिया है। आईपीएल खिताब जीतकर वो खास कप्तानों की सूची में शामिल हो गए। यहां तक कि हार्दिक की दावेदारी अब राहुल, पंत, बुमराह और अय्यर से भी ज्यादा मजबूत हो गई है। कई क्रिकेट विशेषज्ञों ने यह भविष्यवाणी की है कि हार्दिक निकट भविष्य में टीम इंडिया के कप्तान बनेंगे।

हार्दिक का सीजन में प्रदर्शन

खिलाफ      रन विकेट

लखनऊ सुपर जाएंट्स 33 00

दिल्ली कैपिटल्स 31 01

पंजाब किंग्स         27 01

सनराइजर्स हैदराबाद         50* 01

राजस्थान रॉयल्स 87* 01

कोलकाता नाइटराइडर्स 67 गेंदबाजी नहीं की

सनराइजर्स हैदराबाद         10 गेंदबाजी नहीं की

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर 3 गेंदबाजी नहीं की

पंजाब किंग्स         1 गेंदबाजी नहीं की

मुंबई इंडियंस         24 गेंदबाजी नहीं की

लखनऊ सुपर जाएंट्स 15 00

चेन्नई सुपरकिंग्स 07 00

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर 62* 00

राजस्थान रॉयल्स 40* 01

राजस्थान रॉयल्स 34 03