मध्य प्रदेश के राजगढ़ में…

दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प, आगजनी और पथराव से बिगड़े हालत

मध्य प्रदेश के राजगढ़ इलाके के करेड़ी में हिंसा होने की खबर है। इस झड़प के बीच पुलिस पर पथराव भी किया गया है। उपद्रवियों ने घर में आगजनी भी की है। बताया जा रहा है कि राजगढ़ में दो समुदायों के बीच जमीनी विवाद ने देखते-देखते सांप्रदायिक रूप ले लिया। बीती रात सामने आए इस घटनाक्रम में दोनाें समुदाय के लोग भिड़ गए। हालात बिगड़े तो दोनों तरफ से पथराव भी हुआ। इस बीच कुछ घरों में आग लगा दी गई। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक दो अलग अलग समुदाय के लोगों के घर में आग लगाई गई थी। 

खबर मिलते ही मौके पर पहुंचे राजगढ़ थाना प्रभारी उमेश यादव जब अपने 7-8 जवानों के साथ उन घरों में यह पता करने के लिए दाखिल हुए कि वहां अंदर कोई फंसा तो नहीं है, बस यही बात कुछ उपद्रवियों को रास नहीं आई और उन्होंने पुलिस पार्टी पर भी पथराव कर दिया। इस विवाद से जुड़ा वीडियो भी वायरल हो रहा है। जिसमें उपद्रवियों को ये कहते हुए सुना जा सकता है कि ये आग बुझनी नहीं चाहिए और कोई बचना भी नहीं चाहिए, इसके लिए कुछ भी करना पड़े। हालांकि उनकी ये नापाक साजिश कामयाब नहीं हो सकी और कुछ ही घंटों में हालात नियंत्रण में आ गए। इस हिंसा में पुलिसवालों समेत दोनों पक्ष के कई लोग घायल हुए हैं। 

वहीं इस वीडियो से साफ पता चलता है कि दंगाई इलाके में बड़ा कांड करने की फिराक में थे। इस मामले में पुलिस की जांच जारी है और स्थिति पर नियंत्रण बनाए रखने के लिए पूरे क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। इससे पहले मध्य प्रदेश के खरगोन में पिछले महीने रामनवमी के जुलूस पर पथराव, कुछ वाहनों और घरों में आगजनी की घटनाएं हुईं थीं। जिसके बाद खरगोन के जिलाधिकारी अनुग्रह पी द्वारा कर्फ्यू लगाने के बाद पुलिस फोर्स ने दंगाइयों पर कार्रवाई की थी। इसके बाद जब हिंसा के आरोपियों के घर बुलडोजर पहुंचा था तब इस मामले पर राजनीतिक शुरू हो गई थी।