झगड़े का बदला लेने के लिये फरियादी ने ही बनाई थी फर्जी लूट की कहानी…

मुरार पुलिस ने 1.95 लाख रूपये की फर्जी लूट की बारदात का किया खुलासा

ग्वालियर। बेहट जिला ग्वालियर निवासी फरियादी द्वारा दिनांक 20.05.2022 को डायल-100 पर काॅल कर षिकायत दर्ज कराई गयी कि वह अपनी सरसों का सौदा करने मुरार आया था। सौदा पक्का होने के उपरांत मिले 01 लाख 95 हजार रूपये लेकर वह अपने घर बेहट वापस जा रहा था, तभी बारादरी चैराहे पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसके साथ मारपीट कर उसकी सारी रकम लूट ली गई है। फरियादी कि रिपोर्ट पर से डायल-100 में पदस्थ कर्मचारियों द्वारा उक्त लूट की घटना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया। 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित सांघी द्वारा उक्त लूट की बारदात को गंभीरता से लेते हुए तत्काल अति. पुलिस अधीक्षक शहर-पूर्व/अपराध राजेष डण्डोतिया को थाना बल की टीम को उक्त लूट की बारदात का खुलासा कर संलिप्त आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु निर्देषित किया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देषों के परिपालन में नगर पुलिस अधीक्षक मुरार ऋषिकेष मीणा के मार्गदर्षन में थाना प्रभारी मुरार निरी. शैलेन्द्र भागर्व द्वारा फरियादी की षिकायत पर से मय पुलिस बल के फरियादी द्वारा बताये गये लूट की बारदात के घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीव्ही कैमरों की फुटेज को चैक किया गया। 

दौराने जांच पुलिस टीम को ज्ञात हुआ कि फरियादी द्वारा बताई गई लूट की घटना दिनांक 20.05.2022 के सांय 04ः15 बजे की है तथा फुटेज में आये तथ्यों के आधार पर फरियादी से पुनः पूछताछ करने पर उसने बताया कि बारादरी चैराहे पर सवारी बैठाने के ऊपर रामअवतार गुर्जर से झगड़ा हो गया था। जिस पर से मैने अपने एक साथी के साथ मिलकर उक्त व्यक्ति को फंसाने के उद्देष्य से मेरे साथ लूट किये जाने की झूठी षिकायत डायल-100 में की गई थी। फरियादी की निषादेही पर पुलिस टीम द्वारा उसके साथी के घर से लूटी गई रकम 01 लाख 95 हजार रूपये को बरामद कर लिया गया। इस प्रकार थाना मुरार पुलिस की तत्परता से लूट की झूठी बारदात का खुलासा किया गया।