विश्व रेडक्रॉस दिवस पर हुआ रक्तवीरों व सामाजिक संस्थाओं का सम्मान…

निःस्वार्थ भाव से करें दूसरों की सेवा : न्यायमूर्ति श्री अहलूवालिया

ग्वालियर। विश्व रेड क्रॉस दिवस के अवसर पर भारतीय रेडक्रॉस सोसायटी शाखा ग्वालियर द्वारा वर्ष भर दूसरों को रक्त देने वाले रक्तवीरों व सामाजिक संस्थाओं का सम्मान किया गया। इस अवसर पर म.प्र. उच्च न्यायालय खण्डपीठ ग्वालियर के न्यायमूर्ति गुरपाल सिंह अहलूवालिया, अध्यक्षता प्रधान महालेखाकार मध्य प्रदेश ग्वालियर गीताली तारे, आध्यात्मिक गुरू संत कृपाल सिंह, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, रेडक्रॉस के सचिव डॉ. आरके शर्मा एवं डॉ. केशव पांडे सहित शहर के गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। इस अवसर  न्यायमूर्ति गुरपाल सिंह अहलूवालिया ने कहा कि आपके निःस्वार्थ भाव से किये गए कार्यों के कारण ही हम विश्व रेडक्रॉस दिवस मना रहे हैं। दूसरों की सेवा करना व जरूरत के समय काम आना इससे बडा पुण्य का कार्य नहीं हैं। हम प्रण करें कि दूसरों के साथ ऐसा व्यवहार न करें जो हम अपने लिए नहीं चाहते। उन्होंने कहा कि हम भी चाहते हैं कि कोई अपराधी न बने परंतु चाहने से कुछ नहीं होता इसके लिये जागरूकता बहुत जरूरी है। 

इसी प्रकार ब्लड डोनेशन के लिये जागरूकता फैलायें जिससे ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद को ब्लड उपलब्ध हो सके। हम मनुष्य बने, दयालु बनें, कृपालु बनें इस पर कार्य करें। इस अवसर पर प्रधान महालेखाकार गीताली तारे ने कहा कि समाज में ऐसे बहुत से लोग हैं जिनको सहायता की आवशयकता है। अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति को भी ब्लड उपलब्ध हो सके इसके लिये हम भी अपने विभाग में ब्लड डोनेशन के लिये जागरूकता अभियान चलाकर ब्लड डोनेशन करवायेंगें। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि ग्वालियर रेडक्रॉस प्रदेश में अच्छा कार्य कर रहा है। हम उनकी मदद करते हैं जिनकी हालात ठीक नहीं है, आपके इस पुनीत कार्य से जो ब्लड एकत्रित किया जाता है, इसका उपयोग जरूरत मंद के लिये किया जाता है। कोरोना काल में रेडक्रॉस ने बहुत अच्छा कार्य किया है। साथ ही संत कृपाल सिंह ने कहा कि मानव सेवा का भाव हमारे अंदर हो तो ईश्वर कृपा हमें सहज ही प्राप्त हो जाती है। मानवीय भावनाओं के साथ ही रेडक्रॉस कार्य कर रहा है। 

हमारी शुभकामनायें हैं कि रेडक्रॉस इसी प्रकार जरूरत मंद की मदद करता रहे। इस अवसर पर रेडक्रॉस के सचिव डॉ. आरके शर्मा ने रेडक्रॉस द्वारा वर्ष भर किये गए कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष शहर के जागरूक नागरिकों व सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से 8582 यूनिट ब्लड प्राप्त किया गया। आने वाले वर्ष में इससे ज्यादा का हमारा लक्ष्य है। जिससे हम ज्यादा से ज्यादा जरूरत मंद की मदद कर सकें। इसके साथ ही कोरोना काल में किये गए कार्यों की जानकारी भी दी। साथ ही कहा कि थेलोसिमिया के ग्रसित बच्चों, गरीबों व जरूरतमंदों को निशुल्क ब्लड उपलब्ध कराया जाता है। इसके साथ ही ब्लड डोनेशन करने वाले रक्तदान वीरों व सामाजिक संस्थाओं का सम्मान किया गया। जिनमें संजीव निगोतिया, राजू खत्री, सुधीर त्रिपाठी, सुरभि गुप्ता, अनिल गुप्ता, डॉ. संजय कुमार पाण्डे, धीरज गुप्ता, हरभजन सिंह, अमित अग्रवाल, राम निरंकारी, नवीन पराण्डे, सुरेन्द्र कुशवाह, हरीश मेवाफरोस, मोहनलाल पाठक, सुधीर दुरापे तथा 40 सामाजिक संस्थाओं का सम्मान किया गया।