राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार ने बेहट में किया दंत क्रांति शिविर का शुभारंभ…

ग्वालियर की पहल पूरे प्रदेश के लिये उदाहरण बनेगी : श्री कुशवाह

ग्वालियर। ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र मध्यप्रदेश का ऐसा पहला विधानसभा क्षेत्र है, जहाँ इतने वृहद स्तर पर आम जनता के दाँतों का मँहगा इलाज सरकार द्वारा अपने खर्चे पर कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने विशेष रूचि लेकर इसके लिये धनराशि का इंतजाम कराया है। यह बात उद्यानिकी व खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं क्षेत्रीय विधायक श्री भारत सिंह कुशवाह ने ग्राम बेहट में सोमवार से शुरू हुए दंत क्रांति शिविर के उदघाटन कार्यक्रम में कही। राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री भारत सिंह कुशवाह ने कहा कि ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में लगाए जा रहे दंत क्रांति शिविर में आम जनता के दांतों का आधुनिक मशीनों द्वारा विशेषज्ञ चिकित्सकों की मदद से नि:शुल्क जाँच व उपचार तो होगा ही। 

साथ ही 20 से 25 हजार रूपए में लगने वाली दाँतों की बत्तीसी, 3 से 5 हजार रूपए में होने वाला रूटकेनाल ट्रीटमेंट, 15 से 25 हजार रूपए में होने वाला बच्चों के टेढ़े-मेढ़े दाँतों का इलाज (ऑर्थों डॉन्टिक ट्रीटमेंट) भी सरकार के खर्चे पर किया जायेगा। इसके अलावा दाँतों की फिलिंग, स्केलिंग व मसूड़ों के इलाज पर होने वाला खर्चा भी सरकार उठायेगी। श्री कुशवाह ने कहा कि चिन्हित मरीजों को बत्तीसी व दाँत लगवाने के लिये ग्वालियर तक लेकर जाने और वापस लाने के लिये वाहन व्यवस्था भी की गई है। उन्होंने कहा दंत क्रांति शिविर ग्वालियर के एमपीसीटी डेंटल कॉलेज, जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से लगाए जा रहे हैं। 

दंत चिकित्सकों व पैरामेडीकल स्टाफ की विशेषज्ञ टीम मय उपकरणों के बेहट आई है। उन्होंने आम जनता से अपील की कि आपके दरवाजे पर दाँतों के इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम आई है। आप सब इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करें, जिससे कोई भी जरूरतमंद दंत रोगी इलाज से वंचित न रह जाए। राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री कुशवाह ने विभिन्न काउण्टर पर जाकर शिविर की व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। साथ ही दंत रोगियों से चर्चा कर उन्हें भरोसा दिलाया कि आपका बेहतर से बेहतर इलाज कराया जायेगा और उच्च गुणवत्ता के दांत भी लगवाए जायेंगे। स्वागत उदबोधन एमपीसीटी डेंटल कॉलेज के डायरेक्टर श्री नरेन्द्र सिंह धाकरे ने दिया। 

इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा व शिविर के नोडल अधिकारी डॉ. आलोक पुरोहित ने  शिविर में उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं व इलाज के बारे में जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर श्री प्रेम सिंह राजपूत व बेहट के सरपंच श्री वीरेन्द्र सिंह गुर्जर सहित अन्य क्षेत्रीय जनप्रतिनिधिगण तथा एमपीसीटी कॉलेज के डीन डॉ. नितिन जग्गी सहित अन्य विशेषज्ञ चिकित्सकगण एवं दाँतों का इलाज कराने आए बेहट, दंगियापुरा, राहुली, सुपावली, रनगवां, हस्तिनापुर व उटीला सहित अन्य समीपवर्ती ग्रामों के निवासी मौजूद थे। राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री भारत सिंह कुशवाह की पहल पर ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में दंत क्रांति शिविर की जो श्रृंखला शुरू हुई है उसकी शुरूआत सोमवार को बेहट से हुई। 

बेहट शिविर में पहले ही दिन 300 से अधिक दंत रोगियों ने पंजीयन कराया। साथ ही एमपीसीटी डेंटल कॉलेज एवं ग्वालियर से आए अन्य दंत विशेषज्ञों द्वारा अत्याधुनिक मशीनों से जाँच की गई। साथ ही मरीजों को नि:शुल्क दवाएँ भी वितरित की गई। बेहट में दूसरे दिन यानि मंगलवार को प्रात: 9 बजे दंत चिकित्सा शिविर शुरू होगा। राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री भारत सिंह कुशवाह ने इस अवसर पर कहा कि ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में तब तक दंत क्रांति शिविरों का सिलसिला जारी रहेगा, जब तक यहां के हर गांव के जरूरतमंद लोगों के दांतों का इलाज नहीं हो जाता। उन्होंने कहा कि दो माह के भीतर सभी के दांतों का इलाज करने की कोशिश की जायेगी। 

राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री भारत सिंह कुशवाह ने इस अवसर पर यह भी कहा कि दंत क्रांति चिकित्सा शिविरों की तर्ज पर ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के युवाओं को नि:शुल्क कम्प्यूटर शिक्षा के साथ-साथ कम्प्यूटर का डिप्लोमा भी दिलाया जायेगा। यह काम जल्द शुरू होगा। इसके लिये धन की व्यवस्था कर ली गई है। उन्होंने कहा कि कम्प्यूटर शिक्षा व डिप्लोमा ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं के लिये रोजगार का सशक्त माध्यम बनेगा। राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री भारत सिंह कुशवाह ने इस अवसर पर जानकारी दी कि ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के सभी कन्या विद्यालयों को स्मार्ट विद्यालय के रूप में तब्दील किया जायेगा। बेहट स्थित कन्या विद्यालय से यह काम शुरू होगा।