इमरान खान ने बुलाई कोर कमेटी की बैठक…

आज एक नए PM का चुनाव करेगी पाकिस्तान की नेशनल असेंबली !

आखिरकार पाकिस्तान में इमरान खान की सरकार गिर ही गई। इमरान खान को अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाया गया है। जानकारी के मुताबिक, संयुक्त विपक्ष के उम्मीदवार शहबाज शरीफ का पाकिस्तान का अगला पीएम बनना तय है। शहबाज शरीफ आज पीएम पद की शपथ लेंगे। शहबाज शरीफ को राष्ट्रपति आरिफ अल्वी पीएम पद की शपथ दिलाएंगे। नवाज शरीफ के भाई शहबाज पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री बनेंगे। पाकिस्तान मीडिया के मुताबिक, पाकिस्तान की नेशनल असेंबली आज एक नए प्रधानमंत्री का चुनाव करेगी। जिसके लिए दोपहर 2 बजे बैठक बुलाई गई है। चुनाव के लिए राष्ट्रपति PML-N शहबाज़ शरीफ और उपाध्यक्ष PTI शाह महमूद कुरैशी के नामांकन पत्र स्वीकार को कर लिया गया है। इमरान सरकार के गिरने और नई सरकार के गठन से पहले पाकिस्तान में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बिना NOC के किसी राजनेता या सरकारी अधिकारी के देश छोड़ने पर रोक लगी दी गई है। वहीं, सरकार गिरने के बाद इमरान ने आज कोर कमेटी की बैठक बुलाई है। भारतीय समय के मुताबिक, आज दोपहर ढाई बजे पाकिस्तान की नेशनल असेंबली की कार्यवाही शुरू होगी। 

संयुक्त विपक्ष ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज यानी पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ को पहले ही अपना संयुक्त उम्मीदवार घोषित कर दिया है, जबकि पीटीआई की तरफ से शाह महमूद कुरैशी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया गया है। दोनों नेताओं ने कल अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग के दौरान इमरान खान के खिलाफ 174 वोट पड़े। इमरान खान पाकिस्तान के पहले प्रधानमंत्री हैं, जिन्हें अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाया गया है। हालांकि, आज तक पाकिस्तान के इतिहास में कोई भी प्रधानमंत्री अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाया है।  14 अरब रुपए के मनी लॉड्रिंग के एक केस में आज ही शहबाज शरीफ पर आरोप तय होंगे, जिसका केस लाहौर हाईकोर्ट में चल रहा है। इस केस में शहबाज और उनके बेटे हमजा शरीफ का भी नाम है, जिन्हें हाईकोर्ट में पेश होना है। बहरहाल लाहौर हाईकोर्ट के आज के फैसले पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं कि शहबाज पर छाए संकट के बादल हटेंगे या नहीं। सत्ता से बेदखल होते ही इमरान खान पर पाबंदियों का दौर शुरू हो गया है, वह देश छोड़कर नहीं जा सकेंगे। वहीं उनकी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के नेता अर्सलन खालिद के घर छापा मारा गया है। सियासी पिच पर इमरान खान के बोल्ड होने के बाद अब नई सरकार की तैयारियां शुरू हो गई हैं। संयुक्त विपक्ष ने शहबाज शरीफ को अपना पीएम पद का उम्मीदवार बनाया है। 

सोमवार को साढ़े ग्यारह बजे नेशनल असेंबली का सत्र बुलाया गया है, जिसमें नए प्रधानमंत्री के नाम पर मुहर लगेगी। इधर, आज ही इमरान ख़ान की पार्टी PTI के कोर कमेटी की बैठक होनी है। बता दें कि, पाकिस्तान की 342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में बहुमत के लिए 172 मतों की आवश्यकता है। अविश्वास प्रस्ताव हारने के बाद इमरान खान ने पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि आजादी की लड़ाई फिर से शुरू। इमरान खान ने ट्वीट करते हुए लिखा है, 'साल 1947 में पाकिस्तान को आजादी मिल गई थी, लेकिन सत्ता बदलने की एक बाहरी साजिश के खिलाफ आज स्वतंत्रता के लिए एक नए लड़ाई की शुरुआत है. यह हमेशा एक देश के लोग होते हैं जो अपनी संप्रभुता और लोकतंत्र की रक्षा करते हैं।' पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के सदस्यों ने रविवार को पाकिस्तान के कई शहरों में इमरान खान को अविश्वास प्रस्ताव के जरिए पीएम पद से हटाने के विरोध में रैलियां निकालीं। इस्लामाबाद, कराची, पेशावर, मलकंद, मुल्तान खानेवाल, खैबर, झांग और क्वेटा जैसे शहरों में विरोध रैलियों निकाली गईं, जिसमें प्रदर्शनकारियों ने विपक्ष के खिलाफ नारेबाजी की।