बाबा, मामा के बाद अब चला दादा का बुलडोजर…

गुजरात में खंभात हिंसा के आरोपितों की अवैध संपत्ति ध्वस्त

अहमदाबाद। उत्तर प्रदेश (यूपी) में बाबा (योगी आदित्यनाथ) व मध्य प्रदेश (एमपी) में मामा (शिवराज सिंह चौहान) के बाद अब गुजरात में पथराव व हिंसा के आरोपियों पर दादा (भूपेंद्र पटेल) का भी बुलडोजर चला है। खंभात में रामनवमी की शोभायात्रा पर हमला करने आरोपितों के अवैध अतिक्रमणों को शुक्रवार को ध्वस्त किया जाने लगा है। रामनवमी पर्व पर रविवार को आणंद जिले के खंभात में रामजी मंदिर से निकली शोभायात्रा पर शक्करपुर, टावर बाजार के पास साजिश रचकर हमला किया गया था। पथराव व आगजनी में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी व दो पुलिसकर्मी सहित एक दर्जन को चोटें आई थी। पुलिस ने इस मामले में तीन मौलवी मतीन, मस्तकीन व मोहसीन समेत 10 को गिरफ्तार किया था, जो अब न्यायिक हिरासत में है। 

शुक्रवार को जिला कलक्टर एमवाई दक्षिणी की निर्देश पर पुलिस व प्रशासन ने इस घटना के आरोपितों के शक्करपुर इलाके में बनाए गए अवैध दुकान व टीन शेड से किए गए अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाया। जिला पुलिस अधीक्षक अजीत राजियान ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज व अन्य सुबूत के आधार पर पकड़े गए आरोपियों व अन्यों की अवैध संपत्तियों को ध्वस्त किया जा रहा है। गैरकानूनी प्रवृत्ति व उपद्रव में शामिल अन्य लोगों की अवैध संपत्तियों को भी ऐसे ही ध्वस्त किया जाएगा। पुलिस ने अब तक इस घटना में 57 लोगों को आरोपित बनाया है। मुख्य आरोपित तीन मौलवियों ने शोभायात्रा की मंजूरी के बाद से ही इस पर पथराव व हमले की साजिश शुरू कर दी थी, ताकि हिंदू संगठन उनके इलाके से दोबारा यात्रा नहीं निकालें। 

वाट्सएप ग्रुप बनाकर युवकों को इसके लिए तैयार किया गया। चादर व झोली फैलाकर मुस्लिम इलाकों से आर्थिक सहायता ली गई, ताकि हमले के बाद पकड़े जाने वालों को कानूनी मदद मुहैया कराई जा सके। खंभात से भाजपा विधायक महेश कुमार रावल ने बताया कि उत्तर प्रदेश में बाबा, मध्य प्रदेश में मामा के बाद गुजरात में दादा का बुलडोजर चला है। उनकी शिकायत के बाद ही शुक्रवार को आरोपितों व अन्यों के अवैध अतिक्रमणों को ढहाना शुरू किया गया। रावल ने बताया कोरोना के कारण दो साल से रामनवमी पर शोभायात्रा नहीं निकली थी, इसलिए हिंदू संगठनों में काफी उत्साह था। पुलिस ने खंभात के 27 संवेदनशील पाइंट्स पर पुलिस बल लगाया, लेकिन शक्करपुर में शोभायात्रा पर पथराव कर हमला किया गया।