कहीं आगजनी, तो कहीं शोभ यात्रा पर पथराव…

रामनवमी के जुलूस के दौरान गुजरात से बंगाल तक बवाल !

रामनवमी के जुलूस के दौरान जगह-जगह हंगामा हुआ है। गुजरात से लेकर बंगाल तक हंगामा देखने को मिला है। कहीं आगजनी हुई तो कही उपद्रवियों ने शोभयात्रा पर पथरबाजी की। गुजरात में हुए हंगामें में एक शख्स की मौत भी हो गई। खबरों के मुताबिक, मध्य प्रदेश में एक पुलिस अधिकारी भी घायल हो गया है। 

गुजरात : गुजरात के साबरकांठा में उपद्रवियों ने कई दुकानें जला दी तो आणंद जिले में एक शख्स की मौत हो गई। इलाके में भारी पुलिस बल तैनात की गई है। उपद्रवियों ने शोभायात्राओं को निशाना बनाया। साबरकांठा के हिम्मत नगर में विश्व हिंदू परिषद ने रामनवमी की शोभा यात्रा निकाली। जुलूस पर कुछ उपद्रवियों ने पत्थर मारने शुरु कर दिए। इसके बाद भारी हंगामा हुआ। उपद्रवियों ने सड़क पर कई गाड़ियों को फूंक दिया। दुकानों में आग लगा दी। हंगामा करने को लेकर पुलिस ने 15 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है। 

मध्य प्रदेश : मध्य प्रदेश के खरगौन शहर में भी जमकर हंगामा कटा है। शहर में आगजनी हुई जिसमें 4 घर पूरी तरह जलकर खाक हो गए। बताया जा रहा है कि रामनवमी का जुलूस शुरू ही हुआ था कि उपद्रवियों ने डीजे को लेकर विवाद किया। बात बिगड़ी तो पत्थर फेंकने शुरु कर दिए। इसके बाद दोनों पक्ष एक दूसरे से भिड़ गए। पुलिस ने तुरंत मोर्चा संभाला और तालाब चौक, गौशाला मार्ग, मोतीपुरा, स्टेडियम के पीछे, टावर क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया। जानकारी के मुताबिक, उपद्रवियों के हमले में एक पुलिस अधिकारी भी घायल हो गए हैं। बताया जा रहा है कि, उपद्रवियों ने शीतला माता मंदिर में भी तोड़फोड़ की है। दावा किया जा रहा है कि खरगोन में अल्पसंख्यक बहुल इलाके में जुलूस पर पथराव किया गया है जिसके बाद दोनों गुट भिड़ गए। फिलहाल लोगों को घरों में ही रहने को कहा गया है। इन इलाकों में भारी पुलिस बल तैनात है। 

पश्चिम बंगाल : पश्चिम बंगाल के बांकुरा में रविवार को रामनवमी के जुलूस के दौरान जमकर हंगामा मचा। मचानताला पेट्रोल पंप मोड़ के पास स्थित मस्जिद के सामने से निकल रहे जुलूस पर हंगामें होने का आसार देखते हुए पुलिस ने जुलूस का रास्ता दूसरी तरफ मोड़ देने को कहा लेकिन जुलूस में शामिल लोगों ने इसे इनकार कर दिया। भारी तादाद में लोगों ने पुलिस के द्वारा की गई बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए जुलूस निकालने की कोशिश की। पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो आरोप है कि भीड़ में से कुछ लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस को जवाबी कार्यवाई करते हुए भीड़ को भगाने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा। इस मामले में अभी तक 17 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।