खरगोन हिंसा मामले में 167 लोगों की गिरफ्तारी के बाद…

पुलिस ने 106 फरार आरोपियों के खिलाफ 10-10 हजार रुपए का इनाम किया घोषित

खरगोन। पुलिस ने रामनवमी हिंसा के आरोपियों की धर पकड़ तेज कर दी है। 63 एफआईआर दर्ज करते हुए 167 लोगों गिरफ्तार कर लिया है। मगर अभी भी 106 आरोपी फरार है। खरगोन एसपी रोहित काशवानी ने फरार 106 आरोपियों पर 10-10 हजार के इनाम की घोषणा की है। एसपी ऑफिस की ओर से इन सभी आरोपियों की लिस्ट जारी कर दी गई है। खरगोन हिंसा में कशामिल दो लोगों के खिलाफ स्थानीय प्रशासन ने सख्त राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लगाया है। इसकी जानकारी प्रभारी एसपी ने मंगलवार दी। 

प्रभारी पुलिस अधीक्षक (एसपी) रोहित काशवानी ने बताया कि 10 अप्रैल की हिंसा में कथित संलिप्तता के लिए तालाब चौक इलाके के निवासी नवाज और जकारिया मस्जिद इलाके के मोहसिन उर्फ नाटी के खिलाफ एनएसए लगाया गया। खरगोन में आज कर्फ्यू में सुबह 10 से शाम 4 बजे तक 6 घंटे की छूट दी गई। दस दिन बाद बैंक और पोस्ट-ऑफिस खुलने से दोनों जगहों पर काफी भीड़ देखी गई। 

वहीं एटीएम पर भी बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। कलेक्टर ने छूट का आदेश जारी किया था। कर्फ्यू में छूट मिलने से लोगों को खासा राहत मिल रही है। गौरतलब है कि खरगोन में 10 अप्रैल को रामनवमी के जुलूस पर पथराव हुआ था और गाड़ियों व घरों को आग लगा दी गई थी। इस घटना पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कड़ी नाराजगी जताई थी। उनके निर्देश पर पुलिस-प्रशासन ने 11 अप्रैल को अभियान चलाकर दंगे में शामिल लोगों के अवैध मकानों और दुकानों को बुलडोजर चलाकर गिरा दिया था।