शहर भी गंदा न हो क्योंकि यह शहर हम सभी का है…

पर्यावरण बचाने कंडो से जलाएं होली और स्वच्छता का रखें ध्यान : निगमायुक्त

ग्वालियर। होली एकता और भाईचारे का त्यौहार है, शहरवासी होली के अवसर पर पर्यावरण को नुकसान न पंहुचाएं तथा केवल गोबर के कंडे की ही होली जलाएं तथा सूखे जैविक रंगों से ही होली खेलें और पानी का अपव्यय न करें। इसके साथ ही यह भी ध्यान रखें कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 चल रहा है तो शहर भी गंदा न हो क्योंकि यह शहर हम सभी का है तथा इसे साफ रखने की भी जिम्मेदारी हम सभी की है। 

यह आग्रह नगर निगम आयुक्त किशोर कन्याल ने होली के त्यौहार एवं स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 को लेकर शहर के नागरिकों से अपील करते हुए किया। निगमायुक्त किशोर कन्याल ने सभी शहरवासियों से आग्रह करते हुए कहा कि शहर में जितने भी स्थान पर होलिका दहन हो वह केवल कंडो से ही हो, इसमें पेड अथवा लकडियों का उपयोग न करें। साथ ही होलिका के नीचे मिटटी रखें जिससे सडक खराब न हो तथा होलिका के उपर विद्युत आदि के तार न हों एवं होलिका यातायात में बाधक न हों। 

वहीं होलिका दहन के लिए नागरिक नगर निगम की गौशाला से कंडे अथवा गौकाष्ठ भी खरीद सकते हैं। इसके साथ ही निगमायुक्त ने कहा कि शहर में स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 को देखते हुए सभी नागरिकों से आग्रह है कि होली हर्षोल्लास के साथ मनाएं लेकिन शहर में कहीं भी गंदगी न तो स्वयं करें और न ही किसी को करने दें, क्योंकि यदि आप ठान लेगें कि हमारा ग्वालियर स्वच्छ रहे तो यह निश्चिित है कि ग्वालियर साफ व स्वच्छ ही रहेगा। 

शहरवासी शहर को गंदा एवं बदरंग न करें। वहीं पानी के संकट को दृष्टिगत रखते हुए होली के अवसर पर पर पानी का अपव्यय न हो इसलिए सभी शहरवासी जैविक रंगो का उपयोग ही करें, जिससे कैमिकल रंगों से होने वाले नुकसान से भी बचा जा सके। निगमायुक्त ने सभी से आग्रह किया कि सोशल मीडिया पर भी इस प्रकार का माहौल बनाएं कि लोग जागरुक हों और कंडो की होली जलाएं तथा जैविक रंगो से होली खेलकर त्यौहार हर्षोल्लास से मनाएं।