2200 से अधिक हितग्राहियों को मिला लाभ…

अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति का भी उत्थान हो : ऊर्जा मंत्री

ग्वालियर। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन निरंतर होता रहेगा, जब तक हर जरूरतमंद को लाभ नहीं मिल जाता। अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति का भी उत्थान हो इसी सोच से शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। कोई भी जरूरतमंद बिना राशन के रहे प्रदेश सरकार की यही मंशा है। शिविर के माध्यम से आम जनो की समस्याओ का निराकरण आसानी से हो सके, इसीलिए प्रत्येक क्षेत्र में शिविर का आयोजन किया जा रहा है। साथ ही मोतीझील में एक उपस्वास्थ्य केन्द्र खुलने जा रहा है जहां आपको नि:शुल्क इलाज उपलब्ध होगा। कृष्णानगर पहाड़िया, सिद्ध बाबा का मंदिर मोतीझील वार्ड-5 में लगाये गए जनसमस्या निवारण शिविर में ऊर्जा मंत्री ने कहा कि गरीबों एवं असहाय लोगों के लिए काम करना सबसे बडा पुण्य का काम है, उन्होने कहा कि आपका सेवक आपकी सेवा हमेशा करता रहेगा।

 

आपकी समस्याओं के निराकरण के लिए यह शिविर आपके क्षेत्र में लगाया गया है। इसी प्रकार के शिविर अन्य क्षेत्रों में भी निरंतर लगाये जायेगें। शिविर में एसडीएम प्रदीप तोमर, अपर आयुक्त नगर निगम अतेन्द्र गुर्जर, मुख्य महाप्रबंधक राजीव गुप्ता, महाप्रबंधक विद्युत विनोद कटारे, महाप्रबंधक सुनील खरे, जनकल्याण अधिकारी अतिबल सिंह यादव सभी विभागों के विभागीय अधिकारी, क्षेत्रिय जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में क्षेत्रवासी उपस्थित थे। ऊर्जा मंत्री द्वारा आम जनों की समस्याओं के निराकरण के लिए लगाये शिविर में विद्युत 250, राजस्व 410, कामकाजी हाथठेला कार्ड 300, पेंशन 70, लोक सेवा गांरटी 150, पात्रता पर्ची समग्र आईडी 130, आयुष्मान 150, भवन निर्माण 300 अमृत 20, खाद्य विभाग 8 आधार कार्ड 70 अन्य योजनाओं सहित 2200 से अधिक आवेदन आये।

 

इन समस्याओं को मंत्री श्री तोमर ने गंभीरता बारी-बारी से सुना और उनमें से कुछ समस्याओं का निदान तुरंत किया तथा कुछ सबंधित विभाग के अधिकारी को भेज कर जल्द ही आम जनों को लाभ दिलाने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए और कहा कि गरीब खुशहाल होगा तो सभी खुशहाल होगें। मोतीझील पहाडिया निवासी 80 वर्षीय भगवती बाई ने बताया कि उसको पिछले 30 वर्ष से विधवा पेंशन नही मिल रही थी। शिविर के माध्यम से आज ही पेंशन मिलने पर भगवती बाई ने मंत्री श्री तोमर का धन्यवाद देते हुए कहा कि मैने विधवा पेंशन के लिए कई बार प्रयास किया परंतु कोई कोई कमी बताकर मेरी पेंशन रूक जाती थी। परंतु इस शिविर में आने से मुझे पेंशन मिलने जा रही है। इसी प्रकार भूरी बाई और भगवान देवी को भी पिछले कई वर्षो से पेंशन नही मिल रही थी। शिविर में आने से उनकी समस्या का भी निदान हो सका।

 

कृष्णानगर मोतीझील में आम जनता की सुविधा के लिए लगाये गये जनसमस्या निवारण शिविर में हितग्राहियों के आयुष्मान, वृद्ध विधवा पेंशन, कामकाजी महिला एवं हाथठेला के आवेदन आये। जनकल्याण अधिकारी द्वारा उनके आवदनों का शिविर में ही सत्यापन कर, पात्र हितग्राहियों को ऊर्जा मंत्री द्वारा प्रमाण पत्र दिये गए। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने शिविर में आने वाले नागरिकों के लिए कुर्सियों पर बैठने की पर्याप्त व्यवस्था की। सभी हितग्राहियों को कुर्सी पर बैठाकर बारी बारी से उनके पास जाकर उनकी समस्या सुनकर वहीं निराकरण किया तथा कुछ समस्याओं को संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जो भी समस्या शिविर के माध्यम से रही है उनका निराकरण शीघ्र कर मुझे अवगत करायें।