गोमूत्र पीकर आएं...

संसद में महुआ मोइत्रा का BJP सरकार पर तंज पर तंज



नई दिल्ली: तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा अपने तीखे भाषण के लिए जानी जाती है और उन्होंने गुरुवार को लोक सभा में केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा और कहा कि सरकार इतिहास को बदलना चाहती है. लोक सभा में अपने संबोधन से पहले महुआ मोइत्रा ने बीजेपीपर जबरदस्त तंज कसा और कहा कि गोमूत्र पीकर आएं.
महुआ मोइत्रा का ट्वीट-
महुआ मोइत्रा लोक सभा में संबोधन से पहले ट्वीट कर कहा, 'मैं आज शाम राष्ट्रपति के अभिभाषण पर पेश धन्यवाद प्रस्ताव पर लोक सभा को संबोधित करुंगी. इसलिए भाजपा को सलाह देना चाहती हूं कि वह संबोधन के बीच में व्यवधान डालने वाली टीम को तैयार कर लें और थोड़ा गोमूत्र पीकर आएं.'
    Am speaking this evening in Lok Sabha on President’s Address.
    Just wanted to give early heads up to @BJP to get heckler team ready & read up on imaginary points of order. Drink some gaumutra shots too.
    — Mahua Moitra (@MahuaMoitra) February 3, 2022

लोक सभा में महुआ मोइत्रा ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह सरकार इतिहास को बदलना चाहती है, वर्तमान पर भरोसा नहीं करती और भविष्य से डरती है. तृणमूल कांग्रेस सदस्य ने कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण में स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में कही गई बातें सिर्फ जुबानी जमाखर्च है.
'महापुरुषों के विचारों का अनुकरण नहीं करती सरकार'

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए महुआ मोइत्रा ने कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण में नेताजी सुभाष चंद्र बोस और अन्य महापुरुषों का उल्लेख केवल कहने भर के लिए किया गया और सरकार उनके विचारों का अनुकरण नहीं करती.मोइत्रा ने कहा, 'नेताजी ने कहा था कि सरकार को सभी धर्मों के प्रति तटस्थ रवैया रखना चाहिए और यदि वह होते तो क्या पिछले दिनों हरिद्वार धर्म संसद में मुसलमानों के खिलाफ कथित बयानबाजी होने देते.'
यह सरकार डरती है: महुआ मोइत्रा

महुआ मोइत्रा ने आरोप लगाया कि यह सरकार डरती है, इसलिए विरोधियों को दबाने के लिए सीबीआई अधिकारियों का कार्यकाल बढ़ाया जा रहा है और नौकरशाहों से डरती है इसलिए भारतीय प्रशासनिक सेवा संवर्ग नियमों में बदलाव ला रही है.तृणमूल सांसद ने आरोप लगाया कि सरकार देश के अन्नदाता पर भरोसा नहीं करती और उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की गारंटी नहीं दे रही. उन्होंने कहा कि सरकार मतदाता पर भरोसा नहीं करती, इसलिए वोटर पहचान पत्र को आधार कार्ड से जोड़ा जा रहा है.उन्होंने पेगासस स्पाईवेयर के विषय को उठाते हुए कहा कि इस मामले में सारे देशों की सरकारों को झूठा बताया जा रहा है, तो क्या केवल यह सरकार सच बोल रही है. उन्होंने कहा, 'अब समय आ गया है कि देश के सभी नागरिकों को गणराज्य के लिए लड़ना होगा.'