सैम्पलिंग की रिपोर्ट आने के बाद संबंधितों के विरूद्व की होगी कार्यवाही…

पुलिस ने वीडियो कोच बस से इन्दौर भेजा जा रहा 30 क्विंटल नकली मावा किया जप्त

 

ग्वालियर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी को जरिए मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि वीडियो कोच बस से नकली मावा इन्दौर भेजा जा रहा है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ग्वालियर के द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक शहर (पूर्व/अपराध) राजेश डण्डोतिया को एडीएम ग्वालियर तथा फूड आॅफीसर से समन्वय स्थापित कर तत्काल कार्यवाही कराने हेतु निर्देषित किया गया। अति. पुलिस अधीक्षक शहर (पूर्व/अपराध) द्वारा तत्काल क्राईम ब्रांच की टीम को मुखबिर की सूचना की तस्दीक हेतु झांसीरोड बस स्टेण्ड भेजा गया तथा एएसपी क्राईम स्वयं भी एडीएम ग्वालियर इझित गड़पाले, एसडीएम संजीव खेमरिया तथा फूड विभाग के अधिकारियों के साथ झांसीरोड वीडियो कोच बस स्टेण्ड पर पहुंचे। अधिकारियों द्वारा सूचना की तस्दीक करने पर पाया कि मां पीताम्वरा ट्रेवल्स की वीडियो कोच बस के माध्यम से नकली मावा इन्दौर भेजा जा रहा है।

मावा को देखने पर फूड विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रथक दृष्टया मावा नकली प्रतीत हो रहा है। जिस पर उपस्थित अधिकारियों द्वारा फूड विभाग को नकली मावा की सैम्पलिंग जप्ती की कार्यवाही हेतु निर्देषित किया गया। क्राईम टीम को 61 कट्टे में भरा हुआ लगभग 30 क्विटंल नकली मावा मिला। नकली मावा की सैम्पलिंग कर जांच हेतु भोपाल भिजवाया जा रहा है, जिसकी रिपोर्ट के आधार पर संबंधित के खिलाफ एफआईआर की जाएगी। इसमें बस मालिक के खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी तथा जो लोग नकली मावा के धंधे में शामिल है उनके खिलाफ भी सख्त कार्यवाही की जाएगी। प्रारम्भिक जांच में नकली मावा का संबंध मुरैना तथा ग्वालियर से पाया गया है।