73 वें गणतंत्र दिवस पर राष्ट्र के नाम संबोधन…

देश से बड़ा कोई धर्म नही, धर्म से पहले देश की रक्षा करे : मुनिश्री

 

ग्वालियर। जैन मिलन ग्वालियर के तत्वावधान में परम पूज्य वात्सल्य सरोवर राष्ट्रसंत मुनि श्री 108 विहर्ष सागर जी महाराज के सानिध्य में 73 वें गणतंत्र दिवस पर राष्ट्र के नाम संबोधित राष्ट्र ध्वजारोहण समारोह कार्यक्रम नई सड़क स्थित चंपाबाग धर्मशाल में   बड़ी धूमधाम के साथ आयोजित किया गया। सभी पदाधिकारियों ने हाथों में तिरंगे का झंडा लेकर राष्ट्रीय गायन किया। जैन समाज के प्रवक्ता सचिन जैन ने बताया कि 73 वें गणतंत्र दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ राष्ट्रसंत मुनिश्री विहर्ष सागर महाराज, मुनिश्री विजयेश सागर महाराज, मुनिश्री विनिबोध सागर महाराज, ऐलक विनियोग सागर महाराज के सानिध्य में राष्ट्र ध्वजारोहण जैन मिलन संस्था के अध्यक्ष योगेश बोहरा सहित पदाधिकारियों ने राष्ट्रगान के साथ किया।

इस कार्यक्रम में देश रंगीला देश मेरा रंगीला..अन्य राष्ट्रीय भक्ति गीतों पर बच्चों द्वारा बहुत ही सुंदर नृत्य प्रस्तुत किए गए! इस मौके पर जैन मिलन के निर्मल जैन, अध्यक्ष योगेश बोहरा, सचिव आशीष जैन, संजीव जैन, विनय कासलीवाल, नीरज छाबड़ा, पंकज बाकलीवाल, विमल जैन, संजीव अजमेरा ने बच्चों को पुरुस्कार वितरण किए। 72 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुनिश्री ने राष्ट्र के नाम संबोधित करते हुए कहा कि  विभिन्न धर्मो से मिलकर हमारा देश बना है, लेकिन धर्म से पहले देश की रक्षा जरुरी है। क्योंकि देश सुरक्षित रहेगा तभी धर्म, साधु और मुनियों की रक्षा होगी।उन्होंने कहा अगर सेना और पुलिस बाहर हो जाए तो दूसरे देश और आतंकवादी हमला कर देंगे।  

ऐसे मे मंदिर सुरक्षित रहेंगे ना बहू-बेटी। इसलिए देश को सूदृढ़ बनाना जरुरी है। गणतंत्र दिवस हमारा राष्ट्रीय पर्व है जिसे सभी धर्मों के लोग साथ मिलकर मनाते हैं। यह पर्व किसी धर्म, जाति या समुदाय से जुड़ा होकर समूचे देश का त्योहार है। जैन समाज के प्रवक्ता सचिन जैन ने बताया कि गणतंत्र दिवस मुनिश्री के पावन प्रेरणा से जैन मिलन ग्वालियर संस्था द्वारा साधर्मी बंधुओं मुख्य रूप से (कु. शिवानी जैन) एवं अन्य संस्था के सदस्यों के सहयोग से गरीब घर से बिछड़े एवं बीमार बुजुर्गों का लालन-पालन करने वाली स्वयंसेवी संस्था मानव सेवा सदन (गुडा) के लिए भवन के लिए एक साउंड सिस्टम भेंट किया गया!