प्रभारी मंत्री ने किया कोविड केयर सेंटरों का अवलोकन…

कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के सभी प्रबंध हों पुख्ता : प्रभारी मंत्री

 

ग्वालियर l कोविड-19 की तीसरी लहर से निपटने के लिये सभी प्रबंध पुख्ता किए जाएं। शासकीय अस्पतालों के साथ-साथ निजी अस्पताल भी पूरी तरह से तैयार रहें। जिले के प्रभारी मंत्री एवं जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सोमवार को सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल, एक हजार बिस्तर का अस्पताल, टीकाकरण केन्द्र और कोविड केयर सेंटरों के निरीक्षण के दौरान यह बात कही। प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट सोमवार को सुबह 10 बजे ग्रामीण क्षेत्र से भ्रमण कर सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल पहुँचे। उन्होंने सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में कोविड उपचार के लिये किए गए प्रबंधों का अवलोकन किया और चिकित्सकों से कहा कि अस्पताल में सभी प्रबंध अच्छे से किए जाएं। मरीजों को किसी भी प्रकार की परेशानी हो। उन्होंने सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल के वार्ड एवं ओटी ऑक्सीजन प्लांट का भी निरीक्षण किया।

प्रभारी मंत्री श्री सिलावट के निरीक्षण के दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी, संभागीय आयुक्त आशीष सक्सेना, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, एडीएम इच्छित गढ़पाले, अधीक्षक जेएएच डॉ. आर के एस धाकड़, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा सहित विभागीय अधिकारी और चिकित्सकगण उपस्थित थे। प्रभारी मंत्री श्री सिलावट ने एक हजार बिस्तर के अस्पताल का भी अवलोकन किया। उन्होंने कहा कि कोविड के लिये अगर आवश्यकता पड़ती है तो एक हजार बिस्तर का एक ब्लॉक पूरी तरह तैयार रखा जाए। इस ब्लॉक में जो भी छोटी-मोटी कमियां रह गई हैं, उसे तत्परता से पूर्ण करें, ताकि आवश्यकता पड़ने पर यहाँ कोविड मरीजों का उपचार प्रारंभ किया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि अस्पताल में पलंग, उपकरण के साथ-साथ चिकित्सकों को भी जवाबदेही सौंपी जाए। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि कोविड-19 की तीसरी लहर में अगर आवश्यकता पड़ती है तो सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल के साथ-साथ एक हजार बिस्तर के अस्पताल का एक ब्लॉक भी उपयोग में लिया जायेगा। इसके लिये सभी प्रबंध कर लिए गए हैं।

कोविड-19 के टीकाकरण के लिये सोमवार से प्रारंभ हुए बूस्टर डोज जेएएच अस्पताल के टीकाकरण केन्द्र में लगना प्रारंभ हुए। संभागीय आयुक्त आशीष सक्सेना, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह एवं पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने प्रभारी मंत्री के समक्ष ही टीकाकरण कराया। प्रभारी मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि बूस्टर डोज के लिये भी जो लोग पात्र हो गए हैं, उनका टीकाकरण तेजी के साथ कराया जाए। सभी पात्र लोग टीकाकरण कराएँ, ताकि कोविड की इस महामारी से बचा जा सके। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जिले में टीकाकरण कार्य तेजी के साथ किया जा रहा है। 15 वर्ष से 18 वर्ष तक के बच्चों के टीकाकरण के साथ-साथ सोमवार से बूस्टर डोज का टीकाकरण भी प्रारंभ कर दिया गया है। टीकाकरण लक्ष्य के अनुरूप हो, इसके भी सार्थक प्रयास किए जा रहे हैं। प्रभारी मंत्री श्री सिलावट ने इसके पश्चात पद्मा विद्यालय में 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों के टीकाकरण केन्द्र का भी अवलोकन किया। उन्होंने केन्द्र पर टीकाकरण करा रहे बालक-बालिकाओं का पुष्पाहार से स्वागत भी किया।

प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सोमवार को ग्वालियर जिले में तैयार किए गए कोविड केयर सेंटरों का भी अवलोकन किया। उन्होंने एमपी सिटी एवं फिजिकल कॉलेज में तैयार किए गए कोविड केयर सेंटर का अवलोकन किया। जन सहयोग से संचालित किए जा रहे इन सेंटरों की व्यवस्थाओं का अवलोकन कर उन्होंने कहा कि कोविड केयर सेंटर में आने वाले किसी भी व्यक्ति को कोई परेशानी नहीं होना चाहिए। प्रभारी मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि कोविड केयर सेंटर में भोजन के साथ-साथ प्रभावित व्यक्ति को काढ़ा और हल्दी युक्त दूध भी उपलब्ध कराया जाए। दोनों ही कोविड केयर सेंटर में जन सहयोग से सभी आवश्यक व्यवस्थायें पूर्ण कर ली गई हैं। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने प्रभारी मंत्री को बताया कि जिले में पर्याप्त संख्या में कोविड केयर सेंटर तैयार कर लिए गए हैं। जैसे-जैसे आवश्यकता पड़ेगी वैसे-वैसे सेंटर प्रारंभ किए जायेंगे। शहर के साथ-साथ ब्लॉक स्तर पर भी कोविड केयर सेंटर तैयार किए  गए है।