मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज और येलो अलर्ट…

शीतलहर की चपेट में मध्य प्रदेश, 28 जनवरी तक कोई राहत नहीं

 

भोपाल। मध्य प्रदेश इन दिनों भीषण ठंड की चपेट में है। बर्फीली हवा के असर से पूरा प्रदेश ठिठुर रहा है। ऐसे में रात में ज्यादा ठंड पड़ रही है। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक 28 जनवरी तक राज्य में शीतलहर चलती रहेगी। राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के 11 जिलों में ठंड का आरेंज अलर्ट जारी किया गया है। भोपाल, धार और रतलाम में शीत लहर का ज्यादा प्रभाव रहा। प्रदेश में सबसे कम तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस पचमढ़ी में दर्ज किया गया। पचमढ़ी, रायसेन, शिवपुरी, इंदौर, खजुराहो, धार और अशोकनगर ऐसे जिले हैं जहां दिन में ही कड़ाके की ठंड पड़ रही है।

यहां जन जीवन सामान्य नहीं चल रहा है। इन जगहों पर न्यूनतम तापमान का औसतम तापमान 4.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। राजधानी भोपाल समेत पचमढ़ी, राजगढ़, शिवपुरी, अशोकनगर, रायसेन और गुना में रात के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की जा रही है। यहां पर शीतलहर आगामी 72 घंटों यानी 28 जनवरी तक जारी रहेगी। प्रदेश के रयसेन, घार, सीहोर, छतरपुर, रतलाम, उज्जैन, गुना, मंदसौर, नीमच, भोपाल एवं अशोक नगर में मौसम विभाग ने तीन दिन का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

वहीं अगले दो दिनों तक राज्य के इंदौर, उज्जैन, टीकमगढ, बैतूल और शाजापुर जिले में शीतलहर का प्रभाव ज्यादा तीव्र रहने का आशंका जताई गई है। जबलपुर, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिलों में और भोपाल रायसेन, सीहोर, सागर, दमोह, धार, खण्डवा और खरगौन में अगले दो दिनों तक शीतलहर का प्रकोप बहुत ज्यादा होगा। लोगों को घरों में रहने की हिदायत दी गई है, खासतौर से बच्चों और बुजुर्गों को विशेष ध्यान देने की जरूरत है।