शहरी ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण के लिए 240 केन्द्र बनाए…

जिले में 15 से 18 वर्ष के किशोरवय बच्चों के वेक्सिनेशन का विशेष अभियान आज से

 

ग्वालियर। वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव के लिए 15 से 18 वर्ष तक के किशोरवय बच्चों को 3 जनवरी से कोविड वैक्सीन लगाने का महाअभियान शुरू होगा। वर्ष 2007 से पहले जन्मे बच्चे टीकाकरण के लिए पात्र होंगे। ग्वालियर जिले में 3 जनवरी को पात्र बच्चों को प्रथम डोज के टीके लगाने के लिए 240 केन्द्र बनाए गए हैं। इस दिन जिले में 40 हजार बच्चों को टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिलेवासियों से आग्रह किया है कि अपने पात्र बच्चों का पंजीयन कराकर संबंधित केन्द्र पर पहुँचकर कोरोना से बचाव के लिए टीके जरूर लगवाएं। उन्होंने टीकाकरण के लिए तैनात सभी टीमों को निर्देश दिए हैं कि वे पूरे समर्पण भाव के साथ बच्चों के टीकाकरण को अंजाम दें।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों को कोरोना वैक्सीन के प्रथम डोज के टीके लगाने के लिये जिले के शहरी क्षेत्र में 120 और इतने ही टीकाकरण केन्द्र ग्रामीण क्षेत्र में बनाए गए हैं। टीकाकरण के लिए शहरी क्षेत्र में 220 और ग्रामीण क्षेत्र में 120 टीमें तैनात की गई हैं। जिले में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के लगभग एक लाख 42 हजार बच्चे हैं, जिन्हें टीके लगाए जायेंगे। इनमें से 40 हजार बच्चों को 3 जनवरी के दिन टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है।