कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए कर्मचारियों को दिया प्रशिक्षण…

कोविड की शुरुआत से ही कंट्रोल कमांड सेंटर निभा रहा है अपनी अहम भूमिका : श्रीमती सिंह

 

ग्वालियर। कोरोना की तीसरी लहर की संभावनाओ को देखते हुये ग्वालियर स्मार्ट सिटी ने पेशेंट, ड्यूटी, शिकायत औऱ आँक्सीजन सफ्लाई मैनेजमेंट सिस्टम को अपडेट करना शुरु कर दिया है साथ ही कंट्रोल कमांड सेंटर में तैनात आँपरेटर सहीत मेडिकल स्टाँफ की भी ट्रेनिंग लगातार की जा रही है ताकि किसी भी विषम परिस्थितियो से निपटने के लिये तैयार रहा जा सके। स्मार्ट सिटी सीईओ जयति सिंह ने जानकारी देते हुये बताया कि ओमिक्राँन वैश्विक महामारी की संक्रमण दर तीव्रता से फैल रही है।

आगामी संभावित लहर को दृष्टीगत रखते हुये शासन द्वारा जारी जरुरी निर्देशो के तहत ग्वालियर स्मार्ट सिटी के कंट्रोल कमांड सेंटर में भी कोरोना से लडने के लिये हर तैयारियां पूरी की जा रही है। श्रीमती सिंह नें बताया कि मार्च 2020 में कोरोना महामारी की पहली दस्तक से ही ग्वालियर स्मार्ट सिटी द्वारा विकसित एकीकृत कमांड कंट्रोल सेंटर कोविड कॉम्बैट में अहम भूमिका निभा रहा है। ग्वालियर स्मार्ट सिटी के इस आपदा केन्द्र से अनेक महत्वपूर्ण गतिविधियाँ निरन्तर संचालित की जा रही हैं। कोरोना की तीसरी लहर की सम्भावनाएँ देखते हुए कमांड सेंटर में कार्यरत कर्मचारियों को रीफ़्रेशर ट्रेनिंग प्रदान की गई है।

इस समय कंट्रोल कमांड सेंटर में 15 सदस्यो का मेडिकल दल शिफ्ट में 24 घंटे तैनात है वही 25 से अधिक आँपरेटर द्वारा मैनेजमेंट पोर्टल द्वारा कोराना महामारी की हर गतिविधी पर नजर रखी जा रही है। श्रीमती सिंह ने बताया कि कोविड की दो लहरों में कमांड सेंटर ने संक्रमण की रोकथाम में अहम भूमिका निभाई थी। कमांड सेंटर पर तैनात ऑपरेटरस में अधिकांश दो लहर में अपना योगदान दे चुके हैं तथा उनके अनुभव निश्चित ही लाभप्रद होगा। कमांड सेंटर में स्मार्ट सिटी के साथ ही स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी चिकित्सक भी कार्यरत हैं तथा स्थिति पर निरंतर नज़र बनाए हैं इसके अलावा इन्सिडेंट कमांडरों की टीम का समन्वय भी कमांड सेंटर से किया जाता है।

निम्न बिन्दुओं पर रहेगा फ़ोकस -

  • होम आइसोलेटेड पेशंट की मॉनिटरिंग - पिछले कुछ महीनों में कोरोना संक्रमण के अधिकांश व्यक्ति होम आइसोलेशन में ही परामर्श उपचार से 10 से 14 दिन में स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो रहे हैं। गम्भीर लक्षणों स्वास्थ्य की स्थिति को देखते हुए कुल संक्रमितों को कमांड सेंटर द्वारा चिकित्सालय में शिफ़्ट किया जाता है इस मॉनिटरिंग के चलते होम आइसोलेटेड संक्रमित को प्रतिदिन दो बार कॉल कर उसके स्वास्थ्य सम्बंधी जानकारी भी ली जाती है।
  • कोरोना हेल्पलाइन सेवा: ग्वालियर स्मार्ट सिटी द्वारा कोविड हेल्पलाइन सेवा का संचालन मार्च 2020 से किया जा रहा है। कोरोना से जुड़ी किसी भी शंका को 0751-2646604/5/6/7/8/9/ पर कॉल कर साझा किया जाता है जिसे कमांड सेंटर पर 24X7 कार्यरत टीम निराकृत करती है
  • व्हाट्सऐप वीडियो कॉल द्वारा चिकित्सकीय परामर्श: यह सेवा ग्वालियर स्मार्ट सिटी द्वारा लागू की गई एक अहम पहल है। अनुभवी चिकित्सकों द्वारा घर बैठे परामर्श दिया जाता है तथा निः शुल्क होने के कारण काफ़ी लोगों ने इस सेवा का उपयोग किया।
  • कंटेनमेंट ज़ोन मॉनिटरिंग : अत्याधुनिक जियो फेंसिंग तकनीक की सहायता से कंटेनमेंट ज़ोन निरधारित किए जाते हैं जो संक्रमण को रोकने में/ संक्रमण की रफ़्तार धीमी करने में अत्यंत लाभकारी सिद्ध हुए हैं।

 ग्वालियर स्मार्ट सिटी के एकीकृत कमांड कंट्रोल सेंटर से निम्न सेवाएँ आमजन के लिए उपलब्ध हैं -

  • कोविड हेल्पलाइन
  • रात्रिकाल आपातकालीन ऐंबुलेंस हेल्पलाइन
  • कोरोना रिपोर्ट हेल्पलाइन
  • शिशु रोग विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा परामर्श
  • वहाट्सैप वीडियो द्वारा चिकित्सकीय परामर्श
  • हॉस्पिटल बेड प्रबंधन
  • ऑक्सीजन डिमांड ऐनेलिसिस एंड मैनेजमेंट
  • कोविड ससपेक्ट ट्रेसिंग एंड इन्फ़र्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम
  • स्मार्ट कवच मोबाइल ऐप