मालिक के खिलाफ FIR दर्ज…

मिलावटी दूध बनाने वाली फेक्ट्री पर रेड, भारी मात्रा में सामान जब्त

मुरैना। जिले की जौरा जनपद के नंद गंगोली गांव में खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने मिलावटी दूध डेयरी पर छापा मारा है। मौके पर 600 लीटर मिलावटी दूध के साथ ही, 100 किलो माल्टो डेस्टरिन पाउडर, आधा क्विंटल रिफाइंड, आरएम केमिकल, डिटर्जेंट और हाइड्रोजन पर-ऑक्साइड मिला है। दूध डेयरी संचालक बिना रजिस्ट्रेशन के ही दूध डेयरी चला रहा था। जिला खाद्य एवं सुरक्षा अधिकारी डीके जैन को पिछले कुछ दिनों से सूचनाएं मिल रही थी, कि जौरा जनपद के नंद गंगोली गांव में मिलावटी दूध फैक्ट्री चल रही है। फैक्ट्री में रोजाना भारी मात्रा में मिलावटी दूध तैयार कर बाजार में सप्लाई किया जाता है।

सूचना पर जिला खाद्य अधिकारी डीके जैन ने मंगलवार को टीम के साथ नंद गंगोली गांव में इस फैक्ट्री पर छापा मारा। मौके पर कर्मचारी मिलावटी दूध तैयार कर रहे थे। खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम को देखते ही कर्मचारी मौके से फरार हो गए। फैक्ट्री संचालक मोहन शर्मा मौके पर ही था। फ़ूड विभाग की टीम ने संचालक से डेयरी का रजिस्ट्रेशन मांगा तो वो दिखा नहीं पाया। मौके पर 600 लीटर मिलावटी दूध, 35 किलो आरएम केमिकल, 100 किलो माल्टो डेस्टरिन पाउडर, 45 किलो रिफाइंड, 5 किलो डिटर्जेंट, 12 लीटर हाइड्रोजन पर-ऑक्साइड मिला। 

खाद्य सुरक्षा विभाग ने पूरे सामान को जप्त कर मिलावटी दूध फैक्ट्री को सील करने की कार्यवाही की है। इस मामले में ADM नरोत्तम भार्गव का कहना है कि जिलेभर में मिलावटखोरों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। इनके खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लिए जा रहे हैं। इसके साथ ही जुर्माने भी किए जा रहे हैं आने वाले समय मे इनके खिलाफ रासुका की कार्रवाही भी की जा सकती है। अधिकारयों का कहना है कि संचालक काफी लंबे समय से मिलावटी दूध का काम कर रहा था। उसके पास कोई लाइसेंस नहीं था। यहां रोजाना करीब 1 हजार लीटर से ज्यादा मिलावटी दूध बनाकर बाजार में सप्लाई होता था।