पढ़-लिखकर पुलिस अफसर बनने की रखती थी तमन्ना…

दो बार स्टेट खेल चुकी हॉकी प्लेयर ने लगाई फांसी

 मुरैना। दो बार स्टेट खेल चुकी हॉकी प्लेयर व इंटर की छात्रा सपना जाटव पढ़-लिखकर पुलिस अफसर बनने की तमन्ना रखती थी। मंगलवार को उसके मन में ऐसी खिन्नता पैदा हुई कि सूने घर में उसने खुद को फांसी लगाकर जिंदगी से अलविदा कह दिया। शहर के गाेपालपुरा वनखंडी रोड पर लाखन जाटव का घर है। मंगलवार को उनकी दूसरी व छोटी बेटी सपना ने शाम के समय फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। 

सुसाइड को सपना ने उस समय अंजाम दिया जब घर पर कोई नहीं था। शाम 7:30 बजे परिवारजन अपने घर पहुंची तो मुख्य प्रवेश द्वार का दरवाजा अंदर से बंद मिला। परिवार के लोगों ने खिड़की का शीशा तोड़कर सपना को फांसी के फंदे से जमीन पर उतारा और इलाज की आस में उसे रात 8:30 बजे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टर ने चेकअप के साथ उसे मृत घोषित कर दिया। बुधवार को मृतका का पीएम कराया गया।