स्वच्छता को लेकर इंदौर और ग्वालियर की होगी संयुक्त बैठक…

स्वच्छता में शहर को अव्वल दर्जा दिलाने बनाएँ पुख्ता रणनीति : श्री सिलावट

ग्वालियर। स्वच्छता में ग्वालियर को अव्वल शहर बनाने के लिये पुख्ता रणनीति बनाएँ। साथ ही जनप्रतिनिधिगण, समाजसेवी, स्वयंसेवी, विद्यार्थी व व्यवसाइयों सहित समाज के सभी लोगों को भागीदार बनाकर शहर में स्वच्छता को जन आंदोलन का रूप दें। इस आशय के निर्देश जिले के प्रभारी एवं जल संसाधन मंत्री जुलसीराम सिलावट ने दिए। श्री सिलावट ने रविवार को जनप्रतिनिधियों एवं वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक लेकर ग्वालियर शहर के विकास कार्यों, जल जीवन मिशन, कोरोना टीकाकरण अभियान और डेंगू नियंत्रण कार्यक्रम सहित सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं की समीक्षा की। 

यहाँ कलेक्ट्रेट के सभागार में आयोजित हुई बैठक में उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह, सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, जिला पंचायत प्रशासकीय समिति की अध्यक्ष मनीषा यादव, पूर्व मंत्री इमरती देवी, भाजपा जिला अध्यक्ष शहर कमल माखीजानी व ग्रामीण कौशल शर्मा, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, मदन कुशवाह व मुन्नालाल गोयल तथा मोहन सिंह राठौर, वीरेन्द्र जैन व बज्जर सिंह गुर्जर सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे। 

साथ ही कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, नगर निगम आयुक्त किशोर कान्याल व सीईओ स्मार्ट सिटी जयति सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में मौजूद रहे।प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने स्वच्छता में देश भर में प्रथम स्थान पर आए इंदौर शहर में लागू की गई सफाई व्यवस्था की खूबियों को समझने के लिये जल्द ही इंदौर व ग्वालियर के अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की संयुक्त बैठक आयोजित करने के लिये भी कहा। यह बैठक जल्द ही इंदौर में होगी।