जनजातीय गौरव दिवस महासम्मेलन संबंधी प्रबंधों की हुई समीक्षा…

व्यवस्थाओं की सतत मॉनीटरिंग कंट्रोल-रूम से करें : डॉ. मिश्रा

इंदौर के प्रभारी गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने इंदौर के रेसीडेंसी एरिया सर्किट हाउस में "जनजातीय गौरव दिवस'' महासम्मेलन संबंधी प्रबंधों की समीक्षा की। डॉ. मिश्रा ने निर्देशित किया कि आगामी 15 नवम्बर को भोपाल में आयोजित महासम्मेलन में शामिल होने वाले प्रतिभागियों को आवश्यक सुविधाएँ मुहैया करायें। बेहतर प्रबंधन के लिये कंट्रोल-रूम स्थापित कर सतत् मॉनीटरिंग सुनिश्चित करें। समीक्षा बैठक में जल-संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट भी मौजूद थे। 

डॉ. मिश्रा ने निर्देशित किया कि आसपास के जिलों के इंदौर होकर जाने वाले प्रतिभागियों के लिये बेहतर प्रबंध करें। इंदौर से बसों में जाने वाले प्रतिभागियों के लिये बस प्रभारी नियुक्त किये जायें। भोपाल के महासम्मेलन में नहीं जा सकने वाले लोगों के लिये स्थानीय स्तर पर एलईडी से सजीव प्रसारण की व्यवस्था सुनिश्चित करें। डॉ. मिश्रा ने कहा कि समस्त व्यवस्थाओं के बेहतर प्रबंधन और समन्वय के लिये कंट्रोल-रूम स्थापित कर मॉनीटरिंग की जाये। 

बैठक में इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने तैयारियों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इंदौर से 2 हजार युवा शामिल होंगे। खरगोन से 14 नवम्बर को 8 हजार युवा इंदौर पहुँचेंगे। सभी के इंदौर में ठहरने के पर्याप्त इंतजाम किये गये हैं। इनके लिये 14 नवम्बर की रात्रि और 15 नवम्बर की सुबह भोपाल रवानगी के पूर्व भोजन और स्वल्पाहार के प्रबंध किये गये हैं। बैठक में विधायक रमेश मेंदोला, आकाश विजयवर्गीय तथा महेन्द्र हार्डिया सहित वरिष्ठ जन-प्रतिनिधि मौजूद थे।