सेना के कर्नल और 3 सैनिकों समेत 6 की मौत...

मणिपुर में आतंकियों ने घात लगाकर किया हमला

मणिपुर में घात लगाकर किए गए हमले में भारतीय सेना के एक कर्नल, उनकी पत्नी और बेटे समेत कम से कम तीन अन्य सैनिक मारे गए हैं। यह इस क्षेत्र में वर्षों में हुए सबसे घातक हमले में से एक है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना शनिवार सुबह करीब 10 बजे मणिपुर के चुराचांदपुर जिले में म्यांमार सीमा के पास हुई। सूत्रों ने कहा कि असम राइफल्स के एक काफिले पर आतंकवादियों के एक अज्ञात समूह ने घात लगाकर हमला किया। सूत्रों ने बताया है कि बेहियांग थाना क्षेत्र के सियालसी गांव के पास रुक-रुक कर फायरिंग जारी है। 

आधिकारिक रिपोर्टों के अनुसार, 46 असम राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर विप्लव त्रिपाठी ने शुक्रवार, 12 नवंबर को अपने बेहियांग कॉय पोस्ट का दौरा किया और वहां रात रुके थे। मणिपुर पुलिस ने कहा कि शनिवार सुबह करीब 10 बजे बेहियांग पुलिस थाने से करीब चार किलोमीटर दूर बेहियांग के पास घात लगाकर हमला करने की सूचना मिली। मणिपुर पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, "कर्नल त्रिपाठी बेहियांग से वापस लौट रहे थे, तभी एक अज्ञात भूमिगत उग्रवादी समूह ने उनके वाहन और सुरक्षा वाहन पर घात लगाकर हमला कर दिया।" 

सूत्रों ने कहा कि कर्नल त्रिपाठी, उनकी पत्नी, उनका बेटा और दो अन्य जवान घात लगाकर किए गए हमले में मारे गए। पांच अन्य जवान घायल हो गए हैं, जिन्हें बेहियांग प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया है। सूत्रों ने कहा, "एआर की टीमें अभी इलाके में तलाशी ले रही हैं और ओसी बेहियांग भी मौके पर पहुंच गए हैं और घायलों को बाहर निकाल रहे हैं।" सूत्रों ने कहा कि इस हमले के पीछे प्रतिबंधित मणिपुरी उग्रवादी संगठन पीपुल लिबरेशन आर्मी (पीएलए) का हाथ होने का संदेह है।