वाहन चैकिंग के दौरान हुआ हंगामा…

पुलिसकर्मियों सेना के हवलदार से की अभद्रता !


ग्वालियर के थाटीपुर चौराहा पर वाहन चैकिंग कर रही पुलिस का सेना में पदस्थ एक हवलदार से विवाद हो गया। विवाद इतना गहराया कि पुलिस जवानों ने फौजी में उसकी पत्नी के सामने चांटा मार दिया। इसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर सामने आया है। फौजी को पुलिस उठाकर थाने ले गई। फौजी की पत्नी बच्चे को गोद में लिए वहीं खड़ी रह गई जिस पर उसने सड़क पर हंगामा खड़ा कर दिया। आम लोग भी महिला के साथ आ गए। थाटीपुर पर जाम के हालात बन गए। हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस के वरिष्ठ अफसर मौके पर पहुंच गए। पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल भी वहां आ गए। किसी तरह फौजी की पत्नी को समझाया गया। तत्काल फौजी को थाने से लाकर चौराहा पर लाया गया। इसके बाद दोनों पक्षों में राजीनामा होने की बात कही जा रही है। पर सोशल मीडिया पर जो वीडियो सामने आया है उसमें पुलिस वाला ही चांटा मारते दिख रहा है। 

फिलहाल पुलिस कोई मामला दर्ज नहीं होने की बात कह रही है। शहर के थाटीपुर चौराहा पर थाटीपुर पुलिस ट्रैफिक सिग्नल के पास खड़ी होकर वाहन चैकिंग कर रही थी। इसी समय सेना में बतौर हवलदार पदस्थ गौरव शर्मा पत्नी और बच्चे के साथ वहां से निकल रहे थे। गौरव अभी जम्मू में पदस्थ हैं। थाटीपुर ट्रैफिक सिग्नल पर पुलिस वाहन चैकिंग के दौरान कुछ वाहन सवारांे से बहस कर रही थी। इसी समय गौरव के मुंह से भी कुछ निकल गया। पुलिस जवान गौरव से उलझ गए। गौरव की वहां ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मी SI वीरेन्द्र शर्मा, आरक्षक बेताल से बहस हो गई। अभी पुलिस को नहीं पता था कि यह फौजी है। बहस में एक पुलिसकर्मी ने उसमें पीछे से चांटा मार दिया। इस पर फौजी भड़क गया। इसके जवाब में फौजी ने भी पुलिस कांस्टेबल पर हाथ छोड़ दिया। इस पर 7 से 8 पुलिस कर्मियों ने उसे घेर लिया और मारपीट कर थाने ले गए। चौराहा पर फौजी की पत्नी और बच्चा रह गया। पति को इस तरह ले जाते देख फौजी की पत्नी ने चौराहा पर हंगामा खड़ा कर दिया। समर्थन में स्थानीय लोग भी वहां आ गए। कुछ ही देर मंे सड़क पर जाम लग गया पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू हो गई। 

थाटीपुर चौराहा पर फौजी की पत्नी के हंगामा करने की खबर मिलते ही पुलिस अधिकारी पहुंच गए। वहां से गुजर रहे पूर्व विधायक व भाजपा नेता मुन्नालाल गोयल भी वहां आ खड़े हुए। पहले पुलिस को पता लगा कि जिसको उन्होंने सड़क पर बिना किसी बात के पीटा है वह फौजी है। दूसरा पत्नी के सड़क पर हंगामा करने से पुलिस अफसरों के हाथ पांव फूल गए। मारपीट करने वाले पुलिसकर्मी गायब हो गए। महिला के कहने पर उसके पति को तत्काल थाना से लेकर वापस चौराहा पर लाया गया। पुलिस ने बिना किसी शिकायत के जाने दिया। इस मामले में टीआई थाटीपुर आरबीएस विमल का कहना है कि फौजी ने कोई शिकायत नहीं की है। गलत फहमी के कारण वहां जाम लगा और हंगामा हुआ।