जानें पूरा मामला…

बंदरों ने की नोटों की बारिश, पेड़ से बरसाए रुपए


दमोह। जिले के जबेरा थाना क्षेत्र से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां पेड़ से बंदरों ने एक लाख रुपए की बारिश की। इस दौरान लोगों ने जैसे की पैसे बरसते देखे तो सभी उसे लूटने के लिए पहुंच गए। बताया जा रहा है कि सिग्रामपुर चौकी के पास कटनी-मंझौली सड़क मार्ग पर लंबा जाम लगा हुआ था। इस दौरान ऑटो में बैठे कटंगी निवासी मोहम्मद अली के पास एक लाख रुपए थे। उन्होंने तौलिए से बांधकर पैसे रखे थे। खाने की चालच में बड़ी ही चालाकी से बंदर तौलिया चुराकर ले गए। 

वहीं बंदरों ने पेड़ पर चढ़कर जैसे ही तौलिए से बंधी गठरी खोली तो पैसे बरसने लगे। कटनी-मंझौली सड़क मार्ग पर काफी भीड़ होने के कारण कटंगी निवासी मोहम्मद अली ऑटो से उतरकर जाम देखने के लिए गए थे। मोहम्मद भूल गए थे कि पैसों से भरी गठरी वह ऑटो में ही छोड़ आए हैं। इस दौरान मौके का फायदा उठाकर बड़ी ही चालाकी से बंदरों ने गठरी पार कर ली। और पेड़ पर चढ़कर जैसे ही उन्होंने गठरी खोली तो पैसे बरसने लगे। पैसे बरसता देख पास खड़े लोगों में भगदड़ मच गई। 

हर कोई पैसे लूटने में जुट गया। वहीं जाम देखकर जब मोहम्मद अली लौटे तो उनके होश उड़ गए। लोगों को पैसे लूटते देख फौरन मोहम्मद ने मामले की जानकारी सिग्रामपुर पुलिस को दी। जिसके बाद तत्काल कार्रवाई करते हुए पुलिस के द्वारा पेड़ से गिरे नोटों को उठाने वाले युवाओं को बुलाया गया, और उनके पास से पैसे वापस लिए गए। लेकिन इस दौरान सिर्फ 56 हजार रुपए ही वापस मिल सके, बाकी बचे 44 हजार रुपए अभी तक नहीं मिले हैं। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।