उत्तराखंड के उधमसिंह नगर में बड़ा हादसा…

सीईटीपी प्लांट में जहरीली गैस की चपेट में आने से तीन की मौत


उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले में पंतनगर स्थित सिडकुल में बड़ा हादसा हुआ है. फैक्ट्रियों के प्रदूषित पानी को साफ करने वाली कंपनी के ‘कॉमन एफ्लुएंट ट्रीटमेंट प्लांट’ (सीईटीपी) के टैंक में जहरीली गैस की चपेट में आने से तीन कर्मचारियों की मौत हो गई है. इसके अलावा एक अन्य कर्मचारी बीमार हो गया है. जानकारी के अनुसार, पहले एक कर्मचारी हरिपाल को सफाई के लिए टैंक में भेजा गया, लेकिन उसके चिल्लाने की आवाज सुनकर संयंत्र के प्रमुख रमन कुमार वहां पहुंचे. 

हरिपाल को बेहोश देखकर वह उसे बचाने के लिए टैंक में उतरे, लेकिन खुद भी बेहोश होकर गिर पड़े. उनके बाद उन्हें बचाने के लिए गया तीसरा कर्मचारी अवधेश भी बेहोश होकर टैंक में गिर गया. टैंक में डूबने से उनकी मौत हो गई. बताया जा रहा है कि इन तीनों के बाद चौथे कर्मचारी बिजेंद्र को उसकी कमर में रस्सी बांधकर टैंक में भेजा गया, लेकिन वह भी बेहोश हो गया. 

जिसके बाद अन्य कर्मचारियों ने उसे उपर खींच लिया जिससे उसकी जान बच गई. बिजेंद्र को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका उपचार किया जा रहा है.पंतनगर के पुलिस उपाधीक्षक आशीष भारद्वाज ने बताया कि पुलिस, राज्य आपदा प्रतिवादन बल और अग्निशमन दल के डेढ से दो घंटे तक चले संयुक्त अभियान के बाद तीनों शवों को बाहर निकाल लिया गया है. उन्होंने बताया कि टैंक से हो रहे जहरीली गैसों के रिसाव के असर को समाप्त करने के लिए दमकल की गाड़ियों ने पहले काफी देर तक पानी का छिड़काव किया.