आपस में चुटीले अंदाज में बतियाते दिखे एकदूसरे के विरुद्ध तीखे तेवर दिखाने वाले राजनेता…

माधवराव सिंधिया को एक साथ श्रद्धासुमन अर्पित करने पहुंचे भाजपा-कांग्रेस कार्यकर्ता

ग्वालियर। पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस दिग्गज माधवराव सिंधिया की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पति करने कांग्रेस और भाजपा दोनों पार्टियों के कार्यकर्ता एक साथ उनके समाधि-स्थल पहुंचे। उन्हें दोनों पार्टियों ने शिद्दत से याद किया। दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने माल्यार्पण करने के बाद ग्वालियर अंचल के विकास की ताउम्र फिक्र रखने वाले कैलाशवासी नेता के समर्थन में नारे भी साथ-साथ लगाए। दोनों पार्टियों की श्रद्धांजलि रैलियां अपने-अपने पार्टी कार्यालयों से प्रारंभ हुई, लेकिन समापन माधवराव सिंधिया के समाधि-स्थल पर एक साथ ही हुआ। कैलाशवासी माधवराव सिंधिया की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि उनकी पुण्यतिथ पर भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ता एक साथ उनकी समाधि पर श्रद्धा-सुमन अर्पित करने पहुंचे। 

कांग्रेस ने शिंदे की छावनी स्थित मुख्यालय से एक प्रभात फेरी निकाली जो थीम रोड स्थित अम्मा महाराज की छत्री में माधवराव सिंधिया के समाधि स्थल पर समाप्त हुई। वहां पहले से ही भाजपा कार्यकर्ता कैलाशवासी सिंधिया की तस्वीर पर माल्यार्पण कर रहे थे। दोनों ही पार्टियों के नेताओ ने माधवराव सिंधिया को श्रद्धा-सुमन अर्पित करते हुए उन्हें विकास का मसीहा बताया। आमतौर पर एकदूसरे के विरुद्ध तीखे तेवर दिखाने वाले राजनेता यहां आपस में चुटीले अंदाज में बातचीत करते रहे। कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्षऔर अब भाजपा मेंआ चुके अशोक शर्मा ने कांग्रेस के शहर जिलाध्यक्ष देवेंद्र शर्मा को मुख्यधारा आर्थात भाजपा में आने के लिए आमंत्रित किया। जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा हमारा विरोध विचारधार का है, व्यक्तिगत नहीं। 

गौरतलब है कि विगतवर्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में चले जाने की वजह से असमंजस में पड़े कांग्रेसी पार्टी के दिग्गज रहे माधवराव सिंधिया की पुण्यतिथि पर श्रद्दांजलि देने अम्मा महाराज की छत्री में नहीं पहुंचे थे। इस बार उन्होंने पूर्व विधायक और ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक रमेश अग्रवाल से स्वर्गीय सिंधिया को श्रद्धा सुमन अर्पित करने की इच्छा जाहिर की, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से परामर्श के बाद इसे सहर्ष स्वीकार कर लिया गया। परिणाम स्वरूप एक साथ कांग्रेस और बीजेपी के साथ ही शहर के समाजसेवी संगठनों प्रतिनिधि सिंधिया को याद करने अम्मा महाराज की छत्री पहुंचे और उन्हें अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए।