खामोश बीहड़ों में डकैतों की गूंज ! 

डकैतों ने चरवाहों से की फिरौती और टेरर टैक्स की मांग

शिवपुरी। खामोश ग्वालियर-चंबल संभाग के बीहड़ाें में एक बार फिर डकैतों की दहशत देखी जा रही है. दरअसल शिवपुरी के सुभाषपुरा और सतनवाड़ा थाना क्षेत्र में हथियारबंद कल्ली गुर्जर गिरोह द्वारा शनिवार को चरवाहों से टेरर टैक्स और मंगलवार को एक चरवाहे से 50 हजार की फिरौती मांगी गई थी. दोनों ही मामलों की सूचना पुलिस को दे दी गई थी। जिसके बाद शिवपुरी एसपी राजेश सिंह चंदेल ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. पुलिस की कई टीमें जंगल में सर्चिंग कर रही है. लेकिन इस तरह की घटना सामने आने के बाद एक बार फिर लोगों में डकैतों की दहशत देखी जा रही है। सुभाषपुरा थाना क्षेत्र के जंगल में शनिवार को भैसे चराने गए चरवाहों को हथियारबंद कल्ली गुर्जर गिरोह ने अपने तीन साथियों के साथ बिलूखो के जंगल में घेर लिया था. 

बंदूक की नोक पर डकैत धमकाने लगे और चरवाहे से कहा कि 5-5 हजार रुपए लेकर जंगल आना नहीं तो जान से मार डालेंगे. बाद में जंगल से लौटकर आए चरवाहों ने इसकी सूचना सुभाषपुरा पुलिस को दी.जिस पर पुलिस ने फरियादी कल्याण गुर्जर की रिपोर्ट पर कल्ली गुर्जर के गिरोह पर टेरर टैक्स मांगने का मामला दर्ज कर लिया था। रविन्द्र गुर्जर अपने पिता जसवंत गुर्जर के साथ रायपुर के जंगल में जानवरों को चरा रहा था. इस दौरान मंगलवार रात करीब 9 बजे मुरैना के शातिर डकैत कल्ली गुर्जर ने हथियारबंद अपने तीन साथियों की मदद से रविन्द्र का अपहरण कर लिया. मामले की सूचना रात में ही पुलिस को दी गई. इसके बाद से नरवर थाना, सतनवाड़ा थाना, सुभाषपुरा थाना टीम के साथ खुद एसपी राजेश सिंह चंदेल ने सर्चिग अभियान को संभाल लिया. पुलिस पार्टियों के बढ़ते दबाव के चलते डकैत रविन्द्र को जंगल में ही छोड़कर फरार हो गए। 

डकैतो ने परिजनों से 50 हजार रुपए फिरौती के रूप में मांगे थे. पुलिस ने डकैत गिरोह के खिलाफ अपहरण और डकैती की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है। मामले की जानकारी के बाद पुलिस सतर्क हो गई है. वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस ने सर्चिंग ऑपरेशन शुरू कर दिया है. जंगलों में पुलिस पार्टी खोजबीन कर रही है. संभावना है कि जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा - राजेश सिंह चंदेल, शिवपुरी एसपी