सतना में प्रचूर मात्रा में चूना पत्थर है, लेकिन…

कृषि भूमि में नहीं लगेगा कोई प्लांट : CM शिवराज

सतना। सतना के रैगांव क्षेत्र पहुंचे मुख्यमंत्री का जनदर्शन कार्यक्रम शुरू हो चुका है। रैगांव में सभा के बाद उनका रथ 11 गांव होते हुए कोठी पहुंचेगा। जहां शाम 5 बजे सभा होगी। जगह-जगह उनका स्वागत भाजपा कार्यकर्ता और ग्रामीणों द्वारा किया जा रहा है। रैगांव में उन्होंने अपने भाषण में कई घोषणाओं के साथ रैगांव कि झोली में कई सौगात दी हैं।

ये की घोषणाएं -

  • रैगांव के भाषण में मुख्यमंत्री ने कहा कहा कि अभियान चला कर सभी गरीबों को जमीन का टुकड़ा देकर उसका मालिक बनाएंगे।
  • सरकारी जमीन से प्लाट काट कर देंगे। सरकारी जमीन न होगी तो निजी जमीन खरीद कर प्लाट काट कर गरीबों को देंगे। सतना जिले को सर्वे कर मॉडल बनाएंगे।
  • सतना में जहां खेती होगी वहां से चूना पत्थर नही निकाला जाएगा, और नही लगेंगी खदान। इसके लिए खनिज मंत्री को मंच से उन्होंने निर्देश देते हुए ड्राफ्ट रद्द करने कहा।
  • 27 तारीख को टीकाकरण का फिर महाअभियान चलेगा, घर से ढूंढ ढूंढ कर लगाया जाएगा टीका।
  • सांसद को निर्देश देते हुए कहा कि हर गरीब को झोला में भर-भर अनाज दो, कोई भूखा न रहे।
  • रैगांव में कालेज खोलने की घोषणा करते हुए इसी सत्र से खोलने निर्देश दिए।
  • रैगांव में 18 करोड़ की लागत से सीएम राइज स्कूल खोलने की घोषणा।
  • सरकारी स्कूल की ड्रेस सिलने का काम स्व सहायता समूह की बहने ही करेगी, ठेकेदार नही। अगर शिकायत मिली तो कार्रवाई के निर्देश दिए और कहा कि ऐसे लोगों को मैं छोडूंगा नहीं।
  • 1 करोड़ 15 लाख से तहसील भवन बनाने कहा।
  • रैगांव में चौकी का उन्नयन कर थाना बनाने की घोषणा।
  • रैगांव प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक केंद्र बनाने की घोषणा
  • रैगांव में ग्रामीण खेल स्टेडियम बनाने की घोषणा।
  • भर्जुना देवी मंदिर के जीर्णोद्धार की घोषणा की।
  • खेरुआ सरकार मंदिर में सामुदायिक भवन बनेगा।
  • संत रविदास मंदिर बनाने की घोषणा।
  • सतधारा में 1 करोड़ 7 लाख से स्टाप डेम सहित अन्य स्थानों में भी स्टाप डेम की घोषणा की।
  • 33/11 केवी के विद्युत सब स्टेशन बनाने की घोषणा।
  • सतना सहित मुख्य मार्गों से रैगांव को जोड़ने के लिए कई सड़कों की घोषणा भी की गई।

मुख्यमंत्री ने ऐलान करते हुए कहा कि आज से एक नई योजना मुख्यमंत्री भू अधिकार योजना की शुरुआत प्रदेश में हो रही है। इसके तहत हम अभियान चलाकर जमीन का टुकड़ा व पट्टा देखकर गरीबों को उनके जमीन का मालिक बनाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब भगवान ने धरती पर भेजा है तो सबके पास रहने के लिए जमीन भी रहना चाहिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जहां सरकारी जमीन होगी वहां हम हर गरीब को प्लॉट कटवा कर और पट्टा बनाकर देंगे और जहां जमीन नहीं मिली तो हम गरीबों को प्राइवेट जमीन खरीद कर प्लाट काट कर देंगे। उन्होंने कहा कि पहले चरण में यह अभियान चलाकर हम सर्वे करेंगे और इसमें सतना जिले को आइडियल बनाएंगे। इसके बाद पूरे प्रदेश में यह अभियान चलाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि दूसरे चरण में आवास योजना के के तहत गरीबों को मकान देकर उनके मकान बना कर दिया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि गरीबों की जिंदगी बदलना है और किसानों की जिंदगी भी बदलना है। यह उनकी पहली प्राथमिकता है। चूने के लिए नहीं होने देंगे खेती की जमीनों का अधिग्रहण: सभा स्थल पर आते ही सर्वप्रथम मुख्यमंत्री ने मंच पर बैठे खनिज मंत्री ब्रजेन्द्र प्रताप सिंह से सीधे कहते हुए कहा कि सतना जिले में उन्हें सुनने में आया है कि जमीन में चूना अधिक है। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि यहां चूने की खदानें खेती की जमीन में न खोली जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम खेती की जमीनों से चूना नहीं निकालेंगे। यह ड्राफ्ट हम रद्द करने के निर्देश देते हैं। क्योंकि इससे किसानों की चिंता बढ़ गई थी। सतना के रैगांव में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि कृषि भूमि में कोई प्लांट नहीं लगेगा। सतना में प्रचूर मात्रा में चूना पत्थर है, लेकिन जहां खती हो रही है, वहां कृषि भूमि से चूना पत्थर नहीं निकालेंगे। सीएम ने मंच से ही खनिज मंत्री को निर्देश दिए और कहा कि फाइल में कैंसिल लिखें।