हिजबुल मुजाहिदीन के पोस्टर बॉय…

आतंकवादी बुरहान वानी के पिता ने पुलवामा में फहराया तिरंगा

श्रीनगर। कश्मीर के त्राल में एक सरकारी स्कूल में मुजफ्फर वानी द्वारा तिरंगा फहराने की तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं. याद दिला दें कि मुजफ्फर वानी हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी कमांडर बुरहान वानी के पिता हैं. आतंकी बुरहान वानी को सेना ने 2016 में मार गिराया था. बुरहान वाली की मौत पर घाटी में बड़े पैमाने पर हिंसा फैली थी. मुजफ्फर वानी पुलवामा के त्राल के एक सरकारी स्कूल में हेडमास्टर हैं. "आज़ादी का अमृत महोत्सव" के हिस्से के रूप में, केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन ने शिक्षा विभाग सहित सभी विभागों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि स्वतंत्रता दिवस पर सभी कार्यालयों में ध्वजारोहण किया जाए.

एक सरकारी आदेश में कहा गया है, "सभी स्कूलों में स्वतंत्रता दिवस मनाया जाएगा. सभी मुख्य कार्यकारी अधिकारियों, प्रधानाध्यापकों को सभी स्कूलों में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के निर्देश दिए जाने चाहिए. समारोह के वीडियो और तस्वीरें गूगल ड्राइव पर अपलोड की जाएंगी." जम्मू-कश्मीर में 23,000 सरकारी स्कूल हैं. लेकिन कई लोगों ने झंडा फहराने का कार्यक्रम नहीं किया. श्रीनगर में एक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि उनके जोन के 120 स्कूलों में से सिर्फ तीन स्कूलों में झंडा फहराने का कार्यक्रम हुआ.

पिछले एक सप्ताह से स्कूलों के शिक्षकों और चिकित्सा सुविधाओं को स्वतंत्रता दिवस समारोह की तैयारी के लिए कहा गया था. कश्मीर के सबसे बड़े स्वास्थ्य केंद्र शेर-ए-कश्मीर आयुर्विज्ञान संस्थान में निदेशक ने तिरंगा फहराया. तस्वीर में सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी भी नजर आ रहे हैं. सरकार ने 15 अगस्त के कार्यक्रमों के लिए सभाओं पर कोविड प्रतिबंधों में भी ढील दी. जबकि महामारी के कारण स्कूल बंद हैं, स्कूलों को स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों के लिए खोला गया था. सरकार ने राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए फ्लैग कोड पर सर्कुलर भी जारी किया है. भारत का ध्वज संहिता तिरंगे के प्रदर्शन को नियंत्रित करने वाले कानूनों और दिशानिर्देशों का एक समूह है.