महाराज सिंधिया का नाम खराब नहीं होने दूंगा…

बिजली विभाग के सारे नोटिस फाड़कर फेंक दो : प्रभारी मंत्री

दतिया। मध्यप्रदेश में चल रही केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और शिवराज सरकार की जुगलबंदी की भक्ति का उदाहरण प्रदेश के गृह मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा के गढ़ में खुलकर सामने आने लगा है, जहां प्रभारी मंत्री ने बिजली विभाग को सीधे चुनौती दे डाली है, मंत्री ने कहा कि दतिया में महाराज सिंधिया का नाम खराब नहीं होने दूंगा, बिजली विभाग के सारे नोटिस फाड़कर फेंक दो. बिजली विभाग ने बकायेदारों से वसूली के लिए नोटिस चस्पा किया था। इन दिनों दतिया जिले के प्रभारी मंत्री सुरेश धाकड़ राठखेड़ा सिंधिया की भक्ति के लिए खासा चर्चा में हैं।

जो अपनी दो टूक बात से भांडेरवासियों की शक्ति बन गए हैं. प्रभारी मंत्री सुरेश राठखेड़ा 15 अगस्त को दतिया जिले के प्रवास पर थे, जहां सर्किट हाउस में भांडेर के लोग बिजली विभाग की मनमानी की शिकायत लेकर पहुंचे थे. वहीं मंत्री ने व्यापारियों से कहा कि सिंधिया मेरे आका हैं और मैं उनका सेवक और चपरासी हूं. मै यहां सिंधिया को नीचा नहीं देखना चाहता हूं. इसलिए बिजली विभाग द्वारा दिये गए सभी नोटिस फाड़कर फेंक दो. कलेक्टर-एसपी से डरने की जरूरत नहीं है. ये हमारे नौकर हैं, हम इनके नौकर नहीं हैं। 

भांडेर में कुछ दिनों पूर्व घर में घुसकर महिलाओं से बिजली बिल वसूली को लेकर बदसलूकी की गई थी, जिसके चलते भांडेर के स्थानीय लोगों एवं व्यापारियों ने बाजार बंद कर प्रदर्शन किया था, तथा ज्ञापन भी सौंपा था, उसके बाबजूद भांडेर बिजली विभाग व्यापारियों को मनमानी नोटिस थमाता गया. जिसके विरोध में व्यापारियों ने प्रभारी मंत्री सुरेश धाकड़ से मुकालत कर अपनी समस्या बताई. जिस पर प्रभारी मंत्री ने अपने आपको सिंधिया का सेवक-चपरासी बताया तथा सिंधिया को अपना आका।